क्रिकेट खेलते समय सिर्फ ये बड़ी बात सोचते हैं रोहित शर्मा

नई दिल्ली ( 25 दिसंबर ): टीम इंडिया ने टी20 सीरीज पर कब्जा जमा लिया है। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंका को 5 विकेटों से हराते हुए टीम इंडिया टी-20 सीरीज एकतरफा 3-0 से अपने नाम करने में कामयाब रही। 

तीसरे और अंतिम मुकाबले में मेहमान टीम ने 7 विकेट खोकर 135 रन बनाए थे। जवाब में भारतीय टीम ने 19.2 ओवर में 5 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। टीम इंडिया के प्रदर्शन के पीछे रोहित शर्मा के खेल की अहम भूमिका रही। शुक्रवार को श्रीलंका के खिलाफ खेले गए टी20 मुकाबले में रोहित ने कमाल की बल्लेबाजी की। 

रोहित शर्मा ने कहा, 'बेशक मेरे पास ताकत नहीं है। मैं गेंद को टाइम करने पर काफी निर्भर करता हूं। मुझे मेरी ताकत और कमजोरी के बारे में पता है। मैं आपको साफ बताऊं तो मैं फील्डिंग के हिसाब से खेलना चाहता हूं। छह ओवर बाद फील्ड फैल जाती है।' 

उन्होंने कहा, 'मैं इस बारे में नहीं सोच रहा था। मैं सिर्फ रन बनाने के बारे में सोच रहा था। मैं किसी निश्चित लक्ष्य के बारे में विचार नहीं कर रहा था। किसी भी प्रारूप में मैं किसी निजी उपलब्धि के बारे में नहीं सोचता हूं। मेरी कोशिश मैदान पर जाकर जितने हो सके रन बनाने की होती है।

रोहित ने 43 गेंदों पर 118 रनों की पारी के दौरान 12 चौके और 10 छक्के लगाए।