Blog single photo

टेस्ट में बतौर ओपनर कितने हिट साबित होंगे वनडे के 'हिटमैन' रोहित शर्मा?

वनडे में 3 दोहरे शतक, सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड, छक्के-चौके लगाने में माहिर, लेकिन सफेद जर्सी पहनते ही रनों का ‘अकाल’, ये कहानी है रोहित शर्मा की जो रंगीन जर्सी में तो खूब रन बनाते हैं

rohit sharma test

उत्कर्ष अवस्थी, न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(1 अक्टूबर): वनडे में 3 दोहरे शतक, सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड, छक्के-चौके लगाने में माहिर, लेकिन सफेद जर्सी पहनते ही रनों का ‘अकाल’, ये कहानी है रोहित शर्मा की जो रंगीन जर्सी में तो खूब रन बनाते हैं लेकिन टेस्ट क्रिकेट में वो नौसिखिए से नजर आते हैं। लिमिटेड ओवेरर्स पर रनों की बरसात करने वाले रोहित शर्मा को टेस्ट क्रिकेट के लिए प्लेइंग इलेवन में चुना गया तो सभी को लगा कि ये बल्लेबाज रंग में है और अब गेंदबाज़ों की खैर नहीं। कप्तान विराट कोहली को भी ऐसा ही लगा होगा शायद तभी उन्होंने बार बार वनडे के आधार पर रोहित शर्मा को मौका दिया। मगर रोहित शर्मा अपने प्रदर्शन से लगातार निराश किया। 

इस बीच रोहित शर्मा के टेस्ट में फ्लॉप हुए और ड्राप भी कई बार हुए। रोहित इस दौरान वनडे और टी 20 क्रिकेट में रनों का अंबार लगाते रहे। सीमित ओवेरर्स में रोहित के असाधारण प्रदर्शन को देखते हुए क्रिकेट के कई पंडितों ने रोहित शर्मा को टेस्ट में ओपनिंग कराने की वकालत की। इस बीच रोहित शर्मा ने अपने बल्ले से विश्व कप में कीर्तिमान रच दिया। रोहित की शानदार प्रदर्शन करते हुए 5 शतकों के साथ 648 रन बनाये। इसी प्रदर्शन के आधार पर रोहित को वेस्टइंडीज़ सीरीज के लिए टेस्ट टीम में चुना गया। हालांकि रोहित को दोनों टेस्ट में अंतिम 11 में जगह नहीं मिली। टीम में बतौर ओपनर केएल राहुल और मयंक अग्रवाल कॉम मौका दिया गया। दो मैचों में केएल राहुल ने अपनी बल्लेबाज़ी से निराश किया। राहुल ने अपनी पिछली 12 पारियों में एक बार भी 50+ का स्कोर नहीं बनाया था। राहुल के खराब प्रदर्शन से एक बार फिर रोहित को बतौर ओपनर खिलाने की मांग ने जोर पकड़ा। 

rohit test opening

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की सीरीज का आगाज बुधवार को विशाखापत्‍तनम टेस्‍ट के साथ होगा। जाहिर है कि सभी की नज़रें रोहित पर होंगी। इससे पहले जब साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की घरेलु टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान किया गया तब चयनकर्ताओं ने केएल राहुल को बाहर कर रोहित शर्मा को बतौर ओपनर नई भूमिका देने का फैसला किया। मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने 15 सदस्यीय टीम की घोषणा करने के मौके पर कहा, 'हम रोहित शर्मा को टेस्ट में पारी की शुरुआत करने का मौका देना चाहते हैं।'प्रसाद ने आगे कहा, 'वह (रोहित) खुद पारी की शुरुआत करने को लेकर इच्छुक हैं और हम भी ऐसा चाहते हैं।' प्रसाद ने कहा, 'हम उन्हें ओपनर के तौर पर कुछ मौका देना चाहते हैं और उसके बाद उनके प्रदर्शन के आधार पर हम कोई आकलन करेंगे।'

पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली उन लोगों में शुमार हैं जिन्होंने रोहित से टेस्ट क्रिकेट में पारी की शुरुआत करवाने की पैरवी की थी। रोहित एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाने वाले इकलौते बल्लेबाज हैं। टेस्ट क्रिकेट में उनका बल्लेबाजी औसत करीब 40 का है। 32 वर्षीय रोहित सीमित ओवरों के अपने खेल को टेस्ट में दोहराने में असफल रहे हैं। अब उम्मीद की जा रही है कि पारी की शुरुआत करने की नई जिम्मेदारी 27 टेस्ट खेल चुके रोहित के लिए मददगार साबित हो सकती है।

hitman test match

दुनिया की चोटी की टीम होने के बावजूद भारतीय टीम ओपनिंग कॉम्बिनेशन को लेकर परेशान रही है। साल 2018 से लेकर अभी तक टीम ने टेस्ट क्रिकेट में सात ओपनर्स आजमाए हैं। केएल राहुल, मुरली विजय, शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, पार्थिव पटेल, मयंक अग्रवाल और हनुमा विहारी इस दौरान पारी की शुरुआत कर चुके हैं। राहुल को सबसे ज्यादा- 13 टेस्ट और 23 पारियों का मौका मिला- उन्होंने सबसे ज्यादा रन (491) भी बनाए हैं। लेकिन अगर आप उनकी औसत को देखें तो वह चौथे स्थान पर खिसक जाते हैं।

हर कोई जानता है कि रोहित शर्मा पहले वनडे और T-20 क्रिकेट में मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते थे। लेकिन धोनी ने उनको 2013 में ओपनिंग करने का मौका दिया। बस इसी दिन के बाद रोहित शर्मा की किस्मत बदल गई। रोहित बतौर ओपनर 132 पारियों में 6719 रन बना चुके हैं, जिसमें उनका औसत 57 से ज्यादा का है। बतौर ओपनर रोहित 25 शतक लगा चुके हैं, जबकि मिडल ऑर्डर पर बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने दो ही शतक लगाए। रोहित शर्मा बतौर ओपनर T-20 क्रिकेट में धमाल मचाए हुए हैं। रोहित T-20 में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाज है। रोहित के बल्ले से T-20 में 4 शतक निकले हैं। क्रिकेट के दिग्गजों से लेकर फैंस तक को  उम्मीद है कि रोहित अगर टेस्ट मैच में बतौर ओपनर खेलते हैं तो वह इस फॉर्मेट में भी धमाल मचा सकते हैं।

rohit ind v sa test

रोहित ने टी20 और 50 ओवर के प्रारूप में बतौर ओपनर अपनी जगह पक्की कर रखी है लेकिन फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने सिर्फ तीन बार -2009 से 2012- के बीच ही ओपनिंग की है। रोहित ने टेस्ट क्रिकेट में कभी पारी की शुरुआत नहीं की। उन्होंने नवंबर 2013 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था। हालांकि इस मंच पर वह कुछ बड़ा नहीं कर पाए। 27 मैचों की 47 पारियों में उन्होंने 39.82 के औसत से 1585 रन बनाए हैं। इसमें तीन सेंचुरी शामिल हैं। उनका सर्वोच्च स्कोर 177 का है। साउथ अफ्रीका दौरे पर चार पारियों में सिर्फ 78 रन बनाने के बाद उन्हें ड्रॉप कर दिया गया। साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्हें दो टेस्ट मैचों में मौका दिया गया और रोहित ने इन मैचों में उपयोगी प्रदर्शन किया। इस दौरे पर वह एक मैच चोट के कारण और एक अपनी बच्ची के जन्म के कारण नहीं खेल पाए थे लेकिन वेस्ट इंडीज के खिलाफ उन्हें विहारी के लिए जगह छोड़नी पड़ी।

मयंक अग्रवाल ने बतौर ओपनर अपनी जगह पक्की कर ली है। रोहित का मुकाबला 20 वर्षीय शुभमन गिल से होगा। गिल को भी  घोषित की गई टीम में जगह मिली है। उन्होंने वेस्ट इंडीज दौरे पर भारत ए के लिए खूब रन बनाए। वह इस सीरीज के दौरान फर्स्ट क्लास क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले भारतीय क्रिकेटर बने। साल 2018 में अंडर 19 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के अहम सदस्य रहे शुभमन गिल ने लगातार अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया है। समय के साथ उनके खेल में भी निखार आ रहा है और वो एक मंझे हुए और परिपक्व खिलाड़ी की तरह बल्लेबाजी करते हैं। अब तक खेले 14 प्रथम श्रेणी मैच में शुभमन ने शानदार बल्लेबाजी की है। उन्होंने 14 मैच की 23 पारियों में 72.15 के शानदार औसत और 74.84 के स्ट्राइक रेट से 1443 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 4 शतक और 8 अर्धशतक निकले हैं। उनका सर्वाधिक स्कोर 268 रन रहा है। 

All Images: Google

Tags :

NEXT STORY
Top