VIDEO: भारत ने इस मिसाइल से किया पाक को बर्बाद, ऐसे करती है काम

नई दिल्ली (23 मई): जम्मू-कश्मीर के नौशेरा में भारतीय सेना ने पाकिस्तान के बंकरों को तबाह किया। इस ऑपरेशन में भारत ने रॉकेट लॉन्चर, एंटी टैंक मिसाइल, ऑटोमेटिक ग्रनेड लॉन्चर और 106 एमएम गन का प्रयोग किया।


21 और 22 मई को सेना जिस पाक बंकर को तबाह किया, उसका वीडियो भी जारी किया है। हालांकि हर बार की तरह पाकिस्तान ने इसे भी नकार दिया है और कहा है कि भारत की तरफ से हुए हमले में हमारा कोई बंकर तबाह नहीं हुआ है। 

वैसे भारतीय सेना ने साफ कर दिया है कि अगर पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश होती रहेगी तो वह इस तरह की कार्रवाई आगे भी करती रहेगी।


नाग मिसाइल
नाग मिसाइल दागो और भूल जाओ (Fire-and-forget) के सिद्धांत पर विकसित नाग मिसाइल एक टैंक रोधी (anti-tank missile) है, जिसकी क्षमता 3-7 किमी है इसमें ठोस प्रणोदकों का इस्तेमाल होता है।

नाग मिसाइलों में अवरक्त प्रतिविम्ब प्रणाली (Imaging Infra-Red, IIR) का प्रयोग किया जाता है जिसके कारन दिन और रात दोनों समय इससे अचूक निशाना लगाया जा सकता है। नाग मिसाइलों का हेलीकाप्टर में प्रयोग किया जा सकने वाला संस्करण भी विकसित किया जा चुका है, जिसे हेलिना (HELINA-HELIcopter NAg) के नाम से जाना जाता है। इसे HAL द्वारा विकसित ध्रुव हेलीकाप्टरों में लगाया गया है। इन मिसाइलों के प्रक्षेपण के लिए एक थर्मल इमेजर से लैस विशेष वाहन नामिका (NAMICA-Nag Missile Carrier) का भी विकास किया गया है।

अमोघा-1
अमोघा-1 दूसरी पीढ़ी की टैंक रोधी गाइडेड मिसाइल है। जो 2.8 किमी तक की सीमा मे बिंदु पिन सटीकता से वार कर सकती है। यह हैदराबाद में भारत डायनेमिक्स लिमिटेड द्वारा विकासाधीन है। यह भारत डायनेमिक्स लिमिटेड कंपनी द्वारा निर्मित व परीक्षित पहली मिसाइल होगी।


वीडियो: