अफगानिस्तान की संसद पर रॉकेट से हमला

नई दिल्ली (28 मार्च): काबुल स्थित अफगानिस्तान की संसद पर रॉकेट से हमला किया गया है। इस हमले में अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

अफगानिस्तान की संसद का निर्माण भारत के सहयोग से किया गया है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनवरी में इसका उद्घाटन किया था। संसद पर हमला अफगानिस्तान की सरकार चुनौती देने के लिए किया गया है। हमले के वक्त सभी सांसद अंदर थे। लेकिन सभी सुरक्षित बताए जा रहे हैं।

वहीं अफगानिस्तान के अशांत दक्षिण में पुलिस की दो जांच चौकियों पर तालिबान द्वारा कल रात भर किए गए हमलों में कम से कम आठ पुलिसकर्मी मारे गए हैं। एक अफगान अधिकारी ने यह जानकारी दी है। हेलमांड प्रांत के पुलिस प्रमुख कर्नल अलमास खान ने आज बताया कि हमला कल गेरेशक जिले में हुआ।

खान ने हमले के लिए तालिबान को जिम्मेदार बताया लेकिन समूह ने अभी हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। अफगान बल जांच चौकियों की संख्या घटाने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि उन पर विद्रोहियो द्वारा हमला किए जाने का खतरा रहता है।