इंसान के मुकाबले बेहतर पार्टनर साबित होंगे रोबॉट

नई दिल्ली (6 सितंबर): 2050 तक इंसान का रोबॉट से शारीरिक संबंध बनाना आम हो जाएगा। जिस तरह से कई फील्ड्स में मशीन इंसान से बेहतर साबित हुई है, उसी तरह से रोबॉट भी बेहतर प्रेमी साबित हो सकते हैं।

यूएस के किर्कवूड कॉलेज के जोएल स्नेल ने बताया, 'क्योंकि वे प्रोग्रामेबल होंगे, सेक्सबॉट प्रत्येक इंडिविजुअल यूजर्स की आवश्यकताओं को पूरा करेंगे। रोबॉटिक सेक्स इंसान से सेक्स से बेहतर हो सकता है।' इसके साथ ही एक्सपर्ट्स ने इसके खतरों से भी आगाह किया है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि सेक्सबॉक हमेशा उपलब्ध होंगे और कभी न नहीं कह सकेंगे। ऐसे में रोबॉट से सेक्स नशे का रूप ले सकता है।

सेक्स थेरपिस्ट गुरप्रीत सिंह ने कहा, 'हम कौन होते हैं जज करने वाले कि कौन रोबॉट से सेक्स करना चाहता है? लोगों को रोबॉट के साथ सेक्स इंजॉय करने दीजिए। जिस तरह से कपल्स सेक्शुअल संबंध में खिलौने का इस्तेमाल करते हैं, उसी तरह यह भी काम करेगा। अगर दोनों पार्टी राजी हो तो मेरे ख्याल से इसमें कोई बुराई नहीं है।' सिंह ने भी रोबॉट से सेक्स के नशे के खतरे से आगाह किया है। उन्होंने कहा कि पूरी तरह से इंसान की जगह रोबॉट का इस्तेमाल हेल्थी नहीं होगा।