MP में पहली बार रोबोट ने संभाली ट्रैफिक व्यवस्था


इंदौर(19 जून): इंदौर में एक रोबोट के ट्रैफिक व्यवस्था संभालने का ट्रायल पूरी तरह सफल रहा। डीएसपी (ट्रैफिक) प्रदीप सिंह चौहान ने बताया कि एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज ने डेढ़ साल की मेहनत के बाद इस रोबोट को तैयार किया है। हमने इसका नाम ट्रैफिक रोबोट सिस्टम रखा है। इसकी खासियत है कि इसे एक बार सेट कर देने के बाद इसकी देखरेख की जरूरत नहीं होती है। यह ट्रैफिक अपने हिसाब से मैनेज कर लेता है।


- चौहान के मुताबिक इसमें टाइमर और लाइट सिस्टम के साथ कैमरे भी लगे हैं, जिन्हें आरएलवीडी (रेड लाइट वायलेशन डिटेक्शन सिस्टम) से अटैच किया जा सकेगा। इससे लालबत्ती में सिग्नल पार करने वाले वाहन चालकों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की जा सकेगी। अभी इसका ट्रायल किया जा रहा है। इसे लगाने से चौराहे पर पुलिस बल की जरूरत नहीं होगी। हालांकि इस सिस्टम पर नियंत्रण के लिए दो इंजीनियरों को तैनात करना होगा।


- रोबोट बनाने वाले राहुल तिवारी ने बताया कि उनकी जानकारी के अनुसार अभी तक भारत में ऐसा कोई रोबोट नहीं बनाया गया है, इसलिए उन्होंने इसके पेटेंट के लिए आवेदन किया है। सब कुछ ठीक रहा तो वह कुछ और रोबोट तैयार करके पुलिस को देंगे।