पहले 'रोबोट वकील' को मिली नौकरी, लॉ फर्म के लिए रिसर्च करेगा

नई दिल्ली (17 मई): एक अमेरीकी लॉ फर्म बेकरहॉस्टेटलर ने अपने यहां रोबोट वकील की नियुक्ति की है। इस रोबोट का नाम रॉस है और यह दुनिया का पहला ऐसा रोबोट है जो कानूनी मसलों को सुलझाने में मदद करेगा। रॉस की सेवाएं दिवालियापन और ऋण अधिकारों से संबंधित मामलों में ली जायेंगी। बेकरहॉस्टेटलर कंपनी ने रॉस को अपने कार्यालय में लीगल रिसर्च का कार्य सौंपा है।

रॉस में सोचने-समझने की क्षमता (कॉग्निटिव कम्प्यूटिंग) मौजूद है। जिससे कंपनी में काम करने वाले वकील उससे सवाल कर सकते हैं और रॉस कानूनी रूप से तथ्य आधारित उत्तर देगा। रॉस चौबीस घंटे कोर्ट के आदेशों पर भी ध्यान रखेगा, जिससे केस पर आए किसी नए आदेश से वकीलों को तुरंत अवगत करा सके।