जोखिम पर भारी आस्थाः भदई अमावस पर चित्रकूट तक जोखिम भरा सफर

अक्षय द्विवेदी, बांदा (31 अगस्त): भदई यानी भाद्रपद मास की अमावस्या पर पुण्य लाभ लेने के लिए लाखो श्रद्धालु धार्मिकनगरी चित्रकूट पहुँच रहे हैं। इस पुण्य को प्राप्त करने से पहेल श्रद्धालुओं को तमाम जोखिम उठाने पड़ते हैं।

चित्रकूट तक आने-जाने के कारण श्रद्धालुओं को ट्रेनों की छतों व ट्रेन के इंजन में बैठकर सफ़र तय करना पड़ता है । रेलवे इक्का दुक्का मेला ट्रेन चलाता है जो श्राद्धलुओं के सैलाब के आगे सब बौनी ही साबित होती हैं।