पिता के अंतिम संस्कार से लौट इस बल्लेबाज ने खेली बेहतरीन पारी

नई दिल्ली(9 अप्रैल): दो दिन पहले ही युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल हुए और शनिवार को वह बैंगलोर के खिलाफ मुकाबले के लिए अपनी टीम दिल्ली डेयरडेविल्स के साथ थे। इतना ही नहीं उन्होंने 33 गेंदों पर हाफ सेंचुरी भी लगाई।


- पंत दिल्ली के अकेले बल्लेबाज रहे जो बैंगलोर के खिलाफ मुकाबले में लोहा लेते नजर आए।


- हालांकि उनकी पारी के बावजूद शेन वॉटसन की कप्तानी वाली बैंगलोर की टीम ने 157 रनों के स्कोर को सफलतापूर्वक बचा लिया।


- बैंगलोर को इस मुकाबले में 15 रनों की जीत मिली। दिल्ली की टीम 9 विकेट पर 142 रन ही बना सकी। पंत आखिरी ओवर में आउट हुए और 36 गेंदों में तीन चौकों और चार छक्कों की मदद से खेली गई उनकी पारी भी दिल्ली को जीत नहीं दिला पाई।


- शनिवार को ऋषभ ने अपनी पहली ही गेंद पर शानदार छक्का लगाया। वह बैंगलोर के हर गेंदबाज की जमकर खबर ले रहे थे लेकिन उन्हें दूसरे छोर के बल्लेबाजों का साथ नहीं मिल पा रहा था।


- वह बुधवार था जब ऋषभ के पिता राजेंद्र पंत का बुधवार को उत्तराखंड के रुड़की में कार्डिएक अरेस्ट के कारण देहांत हो गया। 19 वर्षीय पंत गुरुवार को अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल हुए। पर शुक्रवार को वह फिर अपनी टीम के साथ जुड़ गए। बताया जाता है कि उन्होंने प्रैक्टिस सेशन में भी भाग लिया।