Rio ओलंपिक पर ISIS हमले का 'खतरा', अमेरिका-फ्रांस करेंगे सुरक्षा

नई दिल्ली (4 अगस्त): ब्राजील की राजधानी रियो डी जेनेरो में पांच अगस्त से ओलंपिक गेम्स शुरू हो रहे। जिनपर आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के हमला करने का खतरा मंडरा रहा है। इसके मद्देनजर यहां की सरकार ने रियो और आसपास के क्षेत्र में सुरक्षा इंतजाम पाबंद कर दिए हैं।

- रिपोर्ट के मुताबिक, ब्राजील के सुरक्षाबल पिछले कई महीनों से अमेरिकी सेना से आतंकवादी हमलों का कड़ा जवाब देने के लिए प्रशिक्षण ले रहे हैं। - ओलंपिक की सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए ब्राजील के साथ अमेरिका के अलावा फ्रांस भी आ गया है।   - फ्रांस, जर्मनी और अन्य पश्चिमी देशों में लगातार हो रहे आईएस हमलों को देखते हुए ब्राजील में ओलंपिक गेम्स की सुरक्षा को कड़ा करने का काम पिछले कुछ महीनों से शुरू हो गया है।  - रियो के करीब और जहां-जहां एथलीट ठहरेंगे, उन होटलों व रेस्तराओं में सुरक्षा के कड़े प्रबंध कर दिए गए हैं। - अमेरिकी निगरानी एजेंसी साइट के मुताबिक एक आतंकी समर्थकों के समूह ने टेलीग्राम ऐप पर ओलंपिक गेम्स में हमला करने की खतरनाक अपील की है।  - उन्होंने कहा है कि अमेरिकी, ब्रिटिश, फ्रांसीसी और इस्राइली लोगों को निशाना बनाया जाए।  - ऐप संदेश में 17 अलग-अलग तरीके सुझाए गए हैं, जिनसे हमला किया जा सकता है। -  इसमें खाने और दवाइयों में जहर मिलाना और छोटे ड्रोन का इस्तेमाल कर बम से हमला करना जैसे सुझाव दिए गए हैं। - ओलंपिक को आतंकी हमलों से सुरक्षित रखने के लिए अमेरिका ब्राजीली सुरक्षाकर्मियों को रसायन हमलों से लोहा लेने के लिए प्रशिक्षण दे रहा है। -  इसके अलावा अमेरिका  के साथ फ्रांस ने भी अपने सुरक्षाकर्मी यहां भेजने का वादा किया है।