ओलंपिक गए थे मेडल जीतने, इस हरकत ने पहुंचा दिया जेल

नई दिल्ली(13 अगस्त): ओलिंपिक में किसी भी एथलीट का सपना होता है कि वह अपने देश के लिए मेडल जीत सके। नामीबियाई बॉक्सर जोनास जूनियस भी इसी इरादे के साथ रियो ओलंपिक पहुंचे थे। लेकिन अब वह पुलिस गिरफ्त में हैं।

- उन्हें पुलिस ने हाउसकीपर का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में अरेस्ट किया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक 22 वर्षीय लाइटवेट मुक्केबाज को ओपनिंग सेरेमनी में नामीबिया के ध्वजवाहक के तौर पर चुना गया था। अल जजीरा के रिपोर्टर गैब्रिएल इलिजोन्डो ने बताया कि रियो डी जनीरो की पुलिस के मुताबिक जूनियस ने हाउसकीपर के साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की।

- इलिजोन्डो ने ट्वीट किया, 'पुलिस का कहना है कि बॉक्सर ने हाउसकीपर पर दबाव डालने की कोशिश की।' एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि जूनियस को शनिवार को रियो की बांगू जेल में ट्रांसफर किया जा सकता है।

- जूनियस को गुरुवार को फ्रांस के हसन अमेजिले के खिलाफ राउंड ऑफ 32 के मुकाबले में उतरना था। रियो ओलिंपिक में नामीबियाई बॉक्सर दूसरे मुक्केबाज हैं, जिन्हें सेक्शुअल असॉल्ट के आरोप में अरेस्ट किया गया है। इससे पहले मोरक्को के हसन सादा को घरेलू नौकर का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में अरेस्ट किया गया था।

- सादा पर दो घरेलू नौकरानियों से रेप की कोशिश करने का आरोप लगा है। पिछले बुधवार को ही उन्हें अरेस्ट किया गया था, फिलहाल उन्हें 15 दिन के लिए जेल भेज दिया गया है और मामले जांच जारी है।