साहा ने अपने इस कैच को बताया सबसे शानदार

नई दिल्ली(12 मार्च): भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर ने रिद्धिमान साहा ने पुणे में हवा में शानदार गोता लगाते हुए कैच लपककर स्टीव ओकीफी की पारी का अंत किया था और भारत के इस टेस्ट विकेटकीपर ने अपने इस प्रयास को बहुत प्रेरणादायी बताया।  

- साहा ने कहा कि जब लोग आपकी तुलना ‘सुपरमैन’ के सथ करते हैं तो यह हमेशा शानदार अहसास होता है। लेकिन वास्तव में कहूं तो अगर मैं सुपरमैन का कम से कम 10 प्रतिशत भी हासिल कर पाता तो यह बेहतरीन होता। मैं इस स्तर को बरकरार रखने की कोशिश करूंगा।

- पुणे में पहले टेस्ट में हार के दौरान साहा ने उमेश यादव के पारी के 81वें ओवर में बेहतरीन कैच लपककर ओकीफी की पारी का अंत किया था।  

- उन्होंने कहा कि पुणे का कैच बेंगलुरू के कैच की तुलना में मुश्किल था। पहले मैच में प्रतिक्रिया का समय कम था और यह तेज गेंदबाज की गेंद पर था।

- साहा के चोटिल होने पर पार्थिव पटेल ने बल्ले और विकेट के पीछे अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन चयनकर्ताओं ने मौजूदा सत्र में बंगाल के इस विकेटकीपर पर भरोसा बनाए रखा है।  

- बेंगलुरू टेस्ट में साहा ने आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर मैथ्यू वेड का बेहतरीन कैच लपका था।  इससे पहले साहा के नाम पर विकेटकीजिंग ग्लव्स लांच किए गए।