दुनिया का सबसे अमीर मंदिर है तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम !

नई दिल्ली (23 फरवरी): तिरुपति का तिरुमाला स्थित भगवान वेंकटेवश्वर मंदिर दुनिया का सबसे समृद्ध मंदिर है। इसकी कुल संपत्ति 1.30 लाख करोड़ रुपये है।

     

- तिरुपति का वेंकटेश्वर मंदिर दुनिया का सबसे समृद्ध सनातन मंदिर है। पिछले साल इस मंदिर का राजस्व 2600 करोड़ रुपये रहा, जिसमे 1018 करोड़ रुपये नकद मिले थे।

- इस मंदिर को तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम संचालित करता है। यह मंदिर आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में है।  

- मंदिर में दुनिया भर से चढ़ावा आता है, जिसमें नकदी, हीरे लगे मुकुट, सोने के आभूषण, सोने के सिक्के, हीरे-जवाहरात आदी दिए जाते हैं।

यह भी पढ़ें

- इस मंदिर में बाल दान किये जाते है। श्रद्धालु अपनी बुराइयों और पापों के रूप में बाल छोड़ के जाते हैं ताकि भगवान वेंकटेश की कृपा उन पर हमेशा बनी रहे।

- हर दिन मंदिर में कम से कम 20 हजार लोग बाल दान करते हैं। इसके लिए लगभग 600 हजाम रखे गए हैं। इन बालों को बेचकर मंदिर को आर्थिक लाभ होता है। दान के बालों से मंदिर की कमाई का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि पिछले साले जुलाई और अगस्त में बालों की नीलामी से 17 करोड़ 82 लाख रुपये की आमदनी हुई थी।

- मंदिर में स्थापित काले रंग की मूर्ति के बारे में कहा जाता है कि वह जमीन से प्रकट हुई थी। इसके कारण इसकी मान्यता ज्यादा है।      

- इस मंदिर की कुल संपत्ति 1.30 लाख करोड़ रुपये है। इसमें 43,500 करोड़ रुपये नकद, 4200 एकड़ जमीन, 60 हजार करोड़ का सोना, चांदी और रत्न, 18 हजार करोड़ की अन्य     संपत्ति और 8500 करोड़ का एफडी और निवेश है।

- इस मंदिर में हर रोज करीब तीन लाख लड्डू बनते हैं। इन लड्डुओं का इतिहास 300 साल से भी ज्यादा है। इसे पनयारम कहा जाता है।

- मंदिर में 14 हजार स्थायी कर्मचारी हैं और 115 करोड़ रुपये का पेंशन फंड है।

- तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम एक धार्मिक संस्था होने के बावजूद टैक्स देने के लिए बाध्य नहीं है।