रेवाड़ी गैंगरेप में पुलिस को बड़ी कामयाबी, साजिश रचने वाला नीशू गिरफ्तार



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 सितंबर): हरियाणा के रेवाड़ी गैंगरेप कांड में आखिरकार आरोपियों पर कानून का शिकंजा कस गया है। घटना के पांचवें दिन बाद पुलिस ने एक मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा एक डॉक्टर और क्राइम स्पॉट लैंड के मालिक को भी गिरफ्तार किया है। 

यानी अब तक इस मामले में कुल तीन गिरफ्तारियां हो गई हैं। हालांकि, दो मुख्य आरोपी अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पुलिस ने आज तीन मुख्य आरोपियों में से एक नीशू को गिरफ्तार किया है। एसआईटी चीफ नाजनीन भसीन ने बताया कि मुख्य आरोपी नीशू ने ही इस पूरे प्रकरण की साजिश रची थी।

वहीं, इस मामले में लापरवाही के लिए खट्टर सरकार ने रेवाड़ी के एसपी का ट्रांसफर कर दिया है। सीएम खट्टर ने अपनी सुरक्षा में तैनात राहुल शर्मा को रेवाड़ी एसपी की जिम्मेदारी सौंपी है। साथ ही उन्होंने इस संबंध में डीजीपी बीएस संधु से चंडीगढ़ में मुलाकात की. उन्होंने आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं।

हरियाणा के डीजीपी ने बताया, 'हमने दीनदयाल और डॉक्टर संजीव को गिरफ्तार किया है। दीनदयाल क्राइम स्पॉट एरिया का मालिक है और डॉक्टर संजीव पीड़िता को प्राथमिक उपचार देने पहुंचा था. इन दोनों से पूछताछ में काफी जानकारी मिली है, हम उसके आधार पर तफ्तीश आगे बढ़ा रहे हैं और जल्द ही मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।'

उन्होंने आगे बताया कि मुख्यमंत्री के साथ उनकी बातचीत हुई है और मैंने उन्हें पूरे घटनाक्रम से अवगत कराया है। स्थानीय पुलिस ने कार्रवाई में जो कोताही बरती उसके लिए रेवाड़ी एसपी का ट्रांसफर कर दिया गया है।

गिरफ्तार आरोपी दीनदयाल के रोल के बारे में बात करे तो वो उस कमरे का मालिक था जहाँ पर गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया, वो अच्छे से जानता था कि इस जगह का क्या इस्तेमाल होने जा रहा है, कॉल डिटेल से पता चला है कि नीशू ने ही उसे कॉल करके कहा था कि हमें कमरे की जरूरत है, और उसने चाबी दे दी।
पुलिस की माने तो अभी तक 100 से ज्यादा लोगों से इस मामले में अबतक पूछताछ कि जा चुकी है, मोबाइल सर्विलांस के जरिये भी आरोपियों तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है, इतना ही नही जहाँ वारदात को अंजाम दिया गया वहाँ से भी फोरेंसिक की टीम ने कई सुबूत इकठ्ठे किए है। पुलिस के मुताबिक जिस जगह पर गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया, वो जगह पूरे गांव में बदनाम है, इससे पहले भी वहाँ कुछ इस तरह कि वारदात सुनने में आई है, लेकिन रिपोर्ट नही हुई। पुलिस का दावा है बाकी दोनों आरोपियों पंकज और मनीष को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। सोमवार को पुलिस पकड़े गए तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करेगी।