जानिए कैसी है, शाहरुख की फिल्म 'फैन'

नई दिल्ली (15 अप्रैल): शुक्रवार को आखिरकार दर्शकों का इंतजार खत्म हो गया। शाहरुख़ खान की बहुप्रतीक्षित फ़िल्म 'फ़ैन' रिलीज हो गई। इस फिल्म में शाहरुख़ ने डबल-रोल निभाया हैं। अपने अलग तरह के लुक के कारण यह फिल्म पहले से ही दर्शकों के लिए काफी उत्सुकता का विषय बनी हुई थी। अब जब यह रिलीज हो गई है तो आइए हम आपको बताते हैं, कि कैसी है 'फैन'।

यह फिल्म यशराज बैनर के तले बनी है। निर्देशक मनीष शर्मा हैं और इसका स्कीन प्ले हबीब फ़ैजल और शरद कटारिया ने लिखा है। यह दोनो ही निर्देशक हैं और 'इश्कज़ादे' और 'दम लगा के हईशा' जैसी फ़िल्में निर्देशित कर चुके हैं।

फैन में एक किरदार है आर्यन खन्ना, जो कि एक सुपरस्टार है और दूसरा उनके 'फ़ैन' का किरदार जिसका नाम है गौरव। फिल्म की कहानी में गौरव, आर्यन खन्ना का ज़बरदस्त फ़ैन है। गौरव दिल्ली का रहने वाला है, उसके इलाके में लोग उसे जूनियर आर्यन खन्ना के नाम से जानते हैं। गौरव, आर्यन की तरह दिखता है, उसकी नकल भी उतार सकता है, उसकी तरह बोल भी सकता है। इसी वजह से वह अपने इलाके में एक प्रतियोगिता जीतता है। इनाम में जीती हुई ट्रॉफ़ी वह आर्यन को देना चाहता है जिसके लिए वह मुंबई पहुंच जाता है।

मुंबई पहुंच कर गौरव को तब धक्का लगता है जब वह अपने स्टार से बेजोड़ कोशिश करने के बावजूद भी मिल नहीं पाता। इसके बाद किस तरह एक फ़ैन और एक स्टार का रिश्ता करवट लेता है। यही है फिल्म की कहानी जिसकी गहराई आप 'फैन' देखकर ही जान पाएंगे। 

अब बात करते हैं, फिल्म की तकनीकी की।फ़िल्म का फर्स्ट हाफ में गौरव की दीवानगी और सनक की हद दिखाई गई है। जिसपर फर्स्ट हाफ़ में यह उतने प्रभावशाली ढ़ंग से पर्दे पर नहीं उतर पाती। थोड़ी कमजोरी स्क्रिप्टिंग और निर्देशन की भी नज़र आती है। फ़िल्म में कई ऐसे सीक्वेंस हैं जो काफ़ी लंबे लगते है। फ़िल्म के दोनो ही हिस्सों में यह कमी आपको थका देती है। फिल्म की एडिटिंग भी दो तीन जगह पर परेशान करती है।

शाहरुख़ की एक्टिंग की काफी तारीफ की जा रही है। दोनों किरदारों के बीच उन्होंने कमाल का अंतर रखा है और उसे निभाया भी है। फिल्म की कहानी और निर्देशन फ़िल्म का क्लाइमैक्स और इसके ट्विस्ट आपकी रुचि बनाए रखते हैं