ऐसा करेंगे तो जिंदगी पर रहेंगे जवान, चेहरो पर नहीं दिखेगी बुढापे की निशानी

नई दिल्ली (22 दिसंबर): आने वाले वक्त में इंसान की उम्र 100 साल से ज्यादा होगी, लेकिन उसके चेहरे पर झुर्रियां नहीं दिखेंगी। कैलिफ़ोर्निया के सॉक इंस्टीट्यूट ने कुदरत और किस्मत के खेल को बदलने का दावा किया है। दावा ये कि उनकी रिसर्च अब इंसान को बूढ़ा नहीं होने देगी। उम्र तो बढ़ेगी ही लेकिन उम्र के निशान जिस्म पर नजर नहीं आएंगे। हालांकि, ये प्रयोग बेहद शुरुआती दौर में है। वैज्ञानिकों की मानें तो ये इंतजार लंबा खिंच सकता है, लेकिन इतना तय है कि अगर प्रयोग सफल हुआ तो ये मानव इतिहास की सबसे बड़ी खोज साबित होगी।

रिसर्च का दावा है कि हमारे जिस्म को भी कंप्यूटर की तरह प्रोग्राम किया जा सकता है और इसे नाम दिया गया है सेल्यूलर प्रोग्रामिंग का। व्यक्ति के चेहरे पर बुढापे में नजर आने वाली झुर्रियों के पीछे का राज क्या है? दरअसल, हमारी त्वचा के नीचे प्रोटीन की एक परत नजर आती है जो बुढ़ापे में गायब हो जाती है और त्वचा पर झुर्रियां नजर आने लगती है। ऐसा ही शरीर के दूसरे हिस्सों में भी होता है। साक इंस्टीट्यूट रिसर्च का दावा है कि इस प्रोटीन के खत्म होने को रोका जा सकता है और इसे वो कहते हैं सेल्यूलर प्रोग्रामिंग।