7 महीने के उच्चतम स्तर पर खुदरा महंगाई दर, महंगे हुए पेट्रोल, खाद्य पदार्थ

नई दिल्ली ( 13 नवंबर ): खाद्य पदार्थों की कीमतों में वृद्धि की वजह से देश की वार्षिक महंगाई दर अक्टूबर में बढ़ गई है। आधिकारिक आंकड़ों से सोमवार को यह जानकारी मिली। सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, अक्टूबर में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) पर आधारित महंगाई दर बढ़कर 3.58 फीसदी हो गई। यह सितंबर में 3.28 फीसदी थी। अक्टूबर महीने में महंगाई दर बीते 7 महीने के उच्चतम स्तर है। 

हालांकि, साल-दर-साल आधार पर पिछले महीने सीपीआई महंगाई में गिरावट आई है। यह साल 2016 के अक्टूबर में 4.20 फीसदी दर्ज की गई थी। समीक्षाधीन माह में उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) बढ़कर 1.90 फीसदी रहा, जबकि सितंबर में यह 1.25 फीसदी था। खबरों के मुताबिक मुताबिक खाद्य वस्तुओं पर महंगाई 50 बेसिस पॉइंट और ईंधन पर 80 बीपीसी महंगाई बढ़ने से खुदरा महंगाई दर बढ़ी है। 

महीने दर महीने आधार पर अक्टूबर में ग्रामीण इलाकों की रिटेल महंगाई दर 3.15 फीसदी से बढ़कर 3.36 फीसदी रही है। महीने दर महीने आधार पर खाद्य वस्तुओं रिटेल महंगाई दर 1.25 फीसदी से घटकर 1.9 फीसदी रही। महीने दर महीने आधार पर अक्टूबर में ईंधन और बिजली की रिटेल महंगाई दर 3.92 फीसदी से बढ़कर 6.36 फीसदी रही है।