रेलवे ने रिजर्वेशन टिकट में किया बड़ा बदलाव, यात्रियों को नहीं होगा कोई फायदा

नई दिल्ली (6 मई): इंडियन रेलवे ने रिजर्वेशन टिकट में बड़ा बदलाव किया है। रेलवे ने पीआरएस यानी रिजर्वेशन टिकट के साइज में बदलाव किया है। नए टिकटों का साइज 15.6 सेंटीमीटर लंबा और 9.6 सेंटीमीटर चौड़ा होगा। बता दें कि अभी टिकट की लंबाई 12.7 सेंटीमीटर और चौड़ाई 7.2 सेंटीमीटर होती है। 

रेलवे ने क्यों लिया ये फैसला इंडियन रेलवे ने यह फैसला विज्ञापन छापकर पैसा कमाने के लिए किया है। रिजर्वेशन टिकट को बढ़ाने के इस फैसले से लोगों को किसी प्रकार का फायदा नहीं होगा। वहीं इसके साइज में बढ़ोतरी के बाद इसे संभालने को लेकर लोगों को परेशानी हो सकती है। मौजूदा समय में मिलने वाले टिकट को संभालना में ही यात्रियों के लिए मुश्किल होती है। ऐसे में इसके साइज में 60 फिसदी के बढ़ोतरी के बाद लोगों को इसे संभालने की परेशानी को झेलना पड़ सकता है।   रेलवे बोर्ड ने जोनल रेलवे को भेजे गए अपने आदेश में कहा है कि बड़े आकार के टिकट पर यात्री के टिकट के डिटेल पहले की तरह ही रहेगी लेकिन बाकी बचे स्पेस में जोनल रेलवे अलग-अलग विज्ञापन छापकर पैसे कमा सकती हैं।

पीआरएस टिकट के पीछे वाले हिस्से में 30 फीसदी जगह पर यात्रियों के लिए निर्देश छापे जाएंगे तो वहीं 70 फीसदी जगह पर विज्ञापन छापे जाएंगे. कुल मिलाकर रेलवे ने अपनी आमदनी बढ़ाने के लिए पीआरएस टिकट का साइज बढ़ा दिया है।