जियो का धमाका, इस मामले में बनीं दुनिया की नंबर वन कंपनी

नई दिल्ली (25 अप्रैल): मुकेश अंबानी की टेलिकॉम कंपनी रिलायंस जियो ने एक बार फिर नया कारनामा किया है। कंपनी ने अपने नेटवर्क के आकार को दोगुना करने की योजना बनाई है। इसके लिए कंपनी का इरादा आगामी महीनों में एक लाख अतिरिक्त मोबाइल साइट लगाने का है।


कंपनी ने बयान में कहा कि डेटा के इस्तेमाल के मामले में वह वैश्विक स्तर पर सबसे बड़ा नेटवर्क हो गई है। आगामी महीनों में एक लाख मोबाइल साइट और स्थापित कर नेटवर्क के आकार को दोगुना किया जाएगा। वहीं जियो डाटा इस्तेमाल के मामले में दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क बन गई है।


- 31 मार्च, 2017 तक उसके नेटवर्क पर उपभोक्ताओं की संख्या बढ़कर 10.89 करोड़ हो गई।

- प्रति माह 110 करोड़ गीगाबाइट के डाटा ट्रैफिक और 220 करोड़ वॉयस और वीडियो मिनट्स प्रतिदिन के साथ जियो डाटा के मामले में दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क बन गई है।

- जियो के ग्राहक आज अमेरिका में सभी मोबाइल नेटवर्क के बराबर डाटा की खपत कर रहे हैं।

- वे चीन के मोबाइल नेटवर्क की तुलना में 50 प्रतिशत अधिक डाटा का उपभोग कर रहे हैं।

- यह इस बात का स्पष्ट संकेत है कि भारत डिजिटलीकरण और डिजिटल जीवन को दुनिया में किसी अन्य देश की तुलना में अधिक तेजी से अपना रहा है।

- जियो की औसत डाउनलोड स्पीड मार्च, 2017 में 15 एमबीपीएस रही, जो किसी अन्य ऑपरेटर से दोगुनी है।

- जियो के पास दुनिया का सबसे बड़ा हरित 4जी एलटीई वायरलेस ब्रॉडबैंड नेटवर्क है और उसके मोबाइल टावरों की संख्या एक लाख है। आगामी महीनों में एक लाख टावर और जोड़े जाएंगे।