जियो की फ्री सर्विस के बाद भी रिलायंस के पास आया बंपर पैसा

नई दिल्ली(17 जनवरी): रिलायंस इंडस्ट्रीज का शुद्ध लाभ (कंसोलिडेटेड मुनाफा) चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 3.6 फीसदी बढ़कर 7506 करोड़ रुपये रहा। कंपनी ने एक बयान में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2015-16 की इसी तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 7245 करोड़ रुपये था।

- प्रति शेयर के हिसाब से देखा जाए तो अक्तूबर-दिसंबर, 2016 तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 25.4 रुपये प्रति शेयर रहा जबकि इससे पहले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 24.5 रुपये प्रति शेयर था।

- वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंसोलिडेटेड आय 3 फीसदी बढ़कर 84,189 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंसोलिडेटेड आय 81,651 करोड़ रुपये रही थी।

- दुनिया का सबसे बड़ा रिफाइनरी परिसर चलाने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ने प्रति बैरल कच्चे तेल को ईंधन में बदलने के एवज में 10.8 डालर की कमाई की जबकि वित्त वर्ष 2015-16 की तीसरी तिमाही में सकल रिफाइनिंग मार्जिन 11.5 डालर था।

- रिलायंस के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश डी अंबानी ने कहा, ‘‘उभरते भारत की जरूरत से जुड़ा हमारा मजबूत समन्वित प्लेटफार्म, मजबूत ऑपरेशनल प्रक्रिया और बिजनेस पोर्टफोलियो से मुश्किल हालात में भी आरआईएल का रिकॉर्ड प्रदर्शन देखने को मिला है।

- उन्होंने कहा, ‘‘रिफाइनिंग कारोबार ने लगातार 8 तिमाही दहाई अंक में सकल रिफाइनिंग मार्जिन दिया है। मुकेश अंबानी का कहना है कि लगातार 8वीं तिमाही में जीआरएम 10 डॉलर प्रति बैरल के ऊपर रहा है। आगे शेयरधारकों को अच्छा रिटर्न देने पर फोकस रहेगा। मुकेश अंबानी ने ये भी कहा कि रिलायंस जियो का लॉन्च बेहद सफल रहा है और जियो ने लाखों लोगों को इंटरनेट की आजादी दी है। आगे के लिए ग्रोथ प्लान को लेकर भरोसा कायम है।

- वहीं दूसरी ओर वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का स्टैंडअलोन मुनाफा 4.1 फीसदी बढ़कर 8,022 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का स्टैंडअलोन मुनाफा 7704 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की स्टैंडअलोन आय 3.5 फीसदी बढ़कर 66,606 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की स्टैंडअलोन आय 64,344 करोड़ रुपये रही थी।

- रिलायंस रिटेलः तीसरी तिमाही का मुनाफा 40 फीसदी बढ़कर 333 करोड़ रुपये

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की सब्सिडियरी रिटेल करोबार कंपनी रिलायंस रिटेल का टैक्स पूर्व मुनाफा 31 दिसंबर 2016 को समाप्त तिमाही में 40.50 फीसदी बढ़कर 333 करोड़ रुपये हो गया। रिलायंस रिटेल ने पिछले वित्तवर्ष की समान अवधि में 237 करोड़ रुपये के गिरती कीमत, ब्याज, टैक्स के पहले का मुनाफा (पीबीडीआईटी) हुआ था।

- रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शेयर बाजारों को दी गयी सूचना में कहा कि रिलायंस रिटेल का कारोबार समीक्षाधीन तिमाही में 47.22 फीसदी बढ़कर 8,688 करोड़ रुपये रहा। पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह आंकड़ा 5,901 करोड़ रुपये था।