रिलायंस इंडस्ट्रीज ने रचा इतिहास, यह रिकॉर्ड बनाने वाली देश की पहली कंपनी बनीं

Photo: Google 

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (17 जनवरी): मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक बार फिर नया कीर्तिमान स्थापित किया है। बृहस्पतिवार को कंपनी ने अक्टूबर-दिसंबर तिमाही नतीजे जारी करके सबको चौंका दिया है। इस दौरान कंपनी का कंसोलिडेटेड मुनाफा 7.7 फीसदी बढ़कर 10,251 करोड़ रुपये हो गया है। इसके साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज एक तिमाही में 10,000 करोड़ रुपये के मुनाफे वाली देश की पहली कंपनी बन गई है। 

कंपनी की आय भी 9.1 फीसदी 1.56 लाख करोड़ रुपये हो गई है। कंपनी की नतीजे अनुमान से बेहतर रहे हैं। नतीजों के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि रिलायंस जियो के तिमाही नतीजे अनुमान से बेहतर रहे हैं। जियो देश का सबसे बड़ा मोबाइल डाटा नेटवर्क बनने की ओर अग्रसर है। तिमाही नतीजों पर एक नज़र- तिमाही दर तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का कंसोलिडेटेड एबिटडा 21,108 करोड़ रुपये से बढ़कर 21,317 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही दर तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का कंसोलिडेटेड एबिटडा मार्जिन 14.7 फीसदी से घटकर 13.6 फीसदी रहा है।

तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का कंसोलिडेटेड पेटकेम से होने वाली आय 43,745 करोड़ रुपये से बढ़कर 46,246 करोड़ रुपये रही है। जबकि कंपनी का कंसोलिडेटेड पेटकेम एबिट 8,120 करोड़ रुपये से बढ़कर 8,221 करोड़ रुपये हो गया है। इसी के साथ पेटकेम एबिट मार्जिन 18.6 फीसदी से घटकर 17.8 फीसदी हो गई है। रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिफाइनिंग से होने वाली आय 98,760 करोड़ रुपये से बढ़कर 1.1 लाख करोड़ रुपये हो गई है। इसका एबिट 5,322 करोड़ रुपये से घटकर 5,055 करोड़ रुपये हो गया है जबकि कंसोलिडेटेड रिफाइनिंग एबिट मार्जिन 5.4 फीसदी से घटकर 4.5 फीसदी हो गई है।