राबड़ी की नीतीश को चिट्ठी, अगर मेरे परिवार को कुछ भी होता है तो गृह मंत्रालय होगा जिम्मेदार

नई दिल्ली(11 अप्रैल): राजद प्रमुख लालू प्रसाद और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास 10,सर्कुलर रोड की सुरक्षा में तैनात बीएमपी-2 के 32 कमांडो को मंगलवार की देर शाम पुलिस मुख्यालय ने वापस बुला लिया। इसके बाद बिहार की सियासत तेज हो गई है। राबड़ी देवी, तेजप्रताप और तेजस्‍वी ने अपने सुरक्षागार्ड भी वापस कर दिये। राबडी देवी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिख कर पूछा कि हमारी सुरक्षा के साथ खिलवाड़ आखिर किसके इशारे पर हो रहा है। उन्‍होंने कहा कि मुझे और मेरे परिवार को मारने की साजिश रची जा रही है। 

इस बीच लालू प्रसाद के पुत्र व नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव और राबड़ी देवी ने बाडीगार्ड लेने से इंकार कर दिया। बुधवार की सुबह योगदान देने आये सुरक्षागार्ड को को वापस लौटा दिया गया।

इसके साथ ही राजद के विधायक और विधान पार्षदों ने भी सुरक्षा नहीं लेने का निर्णय लिया है। इसके बाद राबड़ी देवी, तेजस्‍वी यादव, तेजप्रताप यादव के सभी सुरक्षाकर्मी वापस पुलिस मुख्‍यालय लौट गए हैं। राबड़ी आवास बिना सुरक्षाकर्मी के है। 

सुरक्षा वापस लिए जाने के फैसले पर राबड़ी देवी ने कहा कि मेरे परिवार को मारने की साजिश हो रही है। लेकिन हम किसी से डरने वाले नहीं हैं। ऊपर भगवान और नीचे जनता है। हमें दोनों पर भरोसा है।