...तो इस वजह से फटा था रेडमी नोट 4

नई दिल्ली(19 अगस्त): बेंगलुरु के एक यूजर की जेब में रखे-रखे शाओमी के रेडमी नोट 4 के फटने की घटना आपको याद होगी। इस पूरी घटना पर अब कंपनी ने बयान जारी कर कहा है कि वह फोन बाहरी दबाव की वजह से फटा था। 

- बेंगलुरु के भावना सूर्यकिरण की जेब में रखे फोन को आग लग गई थी। कुछ दिन पहले ही बेंगलुरु के एक स्टोर में रेडमी नोट 4 फटने की घटना भी सामने आई थी। 

- कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा, 'हम आंध्र प्रदेश के पूर्व गोदावरी में रेडमी नोट 4 के खराब होने की घटना पर सफाई देना चाहते हैं। ग्राहक लंबी चर्चा के बाद हमने फोन ले लिया है। पहली बार में फोन को देखकर पता चलता है कि उसपर बहुत ज्यादा बाहरी दवाब था, जिसकी वजह से बैक कवर और बैटरी मुड़ गए और स्क्रीन टूट गई। असली वजह पता करने के लिए विस्तृत जांच की जाएगी।'

- जिस समय सूर्यकिरण के साथ हादसा हुआ वह बाइक चला रहे थे। उन्होंने एक तेलुगू टीवी चैनल से बात करते हुए बताया कि जब तक वह अपनी बाइक रोककर फोन को जेब से बाहर निकालते तब तक वह जल चुका था। उन्होंने बताया कि वह फोन 20 दिन पहले ही खरीदा था और वह मुआवजे के लिए कोर्ट जाएंगे। 

- वहीं शाओमी ने कहा, 'हम अपने ग्राहकों से अनुराध करते हैं कि फोन को खोलें नहीं, बैटरी को पंक्चर न करें और उसपर दबाव ने डालें। अपने स्मार्टफोन को किसी अनाधिकृत दुकान पर रिपेयर न कराएं। शाओमी के लिए सबसे जरूरी ग्राहकों की सुरक्षा है और हम ऐसे मामलों को प्राथमिकता देते हैं। हमारे सारे फोन क्वॉलिटी टेस्टिंग से होकर गुजरते हैं ताकि हम हाई-स्टैंडर्ड बनाए रख सकें।'