मात्र इतने में बनता है iPhone 6 प्लस, कंपनी को होता है बंपर मुनाफा

नई दिल्‍ली (12 मार्च): आजकल भारत में भी आईफोन को लेकर लोगों में क्रैज काफी बढ़ गया है। दूसरे फोनों की तुलना में यह काफी महंगा है लेकिन फिर भी भारत में इसकी काफी मांग है। हालांकि यह यूजर्स इतना नहीं जानते कि यह बेहद महंगे माना जाने वाले आईफोन की निर्माण लागत एप्पल को वास्तव में कुल कीमत की एक तिहाई आती है।

रिपोर्ट के मुताबिक एप्पल iPhone 6 प्लस 300 फीसदी मुनाफे पर बेचता है। मसलन, iPhone 6 प्लस का सबसे सस्ता फोन जो 51,000 रुपए में उपलब्ध है, उसकी असल लागत केवल 17000 रुपए ही है। अगर 16GB आईफोन 6 प्लस में इस्तेमाल होने वाले मैटिरियल की बात की जाए तो वह 15,800 रुपए ही है। वहीं अगर मैन्युफैक्चरिंग की कीमत भी जोड़ दें तो इसकी कुल कीमत 17,000 रुपए से ज्यादा की नहीं है।

रिपोर्ट के मुताबिक, आईफोन का सबसे कीमती हिस्सा उसका स्क्रीन होता है जो कि अब 3D तकनीक से लैस होता है। एक स्क्रीन की कीमत 3,580 रुपए है। अगला कीमती हिस्सा फोन का कैमरा होता है। फ्रंट और रियर दोनो कैमरा (8 MP और 12 MP) की मेन्युफैक्चरिंग कीमत केवल 1,530 रुपए होती है। एप्पल के एक्सपैंडेबल मेमोरी ऑफर न करने के पीछे भी एक वजह है।

आप को बता दें कि फोन में 1 गीगाबाइट मेमोरी जोड़ने की कीमत 25 रुपए होती है। इस हिसाब से आईफोन 6 प्लस में 16 जीबी मेमोरी की कीमत 400 रुपए हुई जबकि 64 जीबी की 1600 GB। तो वास्तव में 16 GB आईफोन 6 प्लस और 64 GB आईफोन 6 प्लस के बीच में केवल 1200 रुपए का फर्क है मगर यूजर को इसके लिए 7000 रुपए चुकाने पड़ते हैं।