आम खरीदने जा रहे हैं तो पहले पढ़ें यह खबर

नई दिल्ली (7 मई): अगर आप आम खरीदने जा रहे हैं तो रूक जाइए, क्योंकि जो आम बाजार में मिल रहा है उसे केमिकल से पकाया गया है। सूरत में केमिकल से पकाए जा रहे 9 क्विंटल आम की पेटियों को जब्त किया है।

गुजरात के सूरत में एक दो किलो नहीं बल्कि जब्त किए गए हैं 9 सौ किलो आम। कुछ मुनाफाखोर इन आमों को नेचुरल तरीके से पकाने के बजाए केमिकल में पका रहे थे, वो भी कैल्शियम कार्बाइड में। कैल्शियम कार्बाइड ऐसा केमिकल जो आपको कैंसर तक की बीमारी दे सकता था। सूरत नगर निगम को कई दिनों से इस बात की शिकायत मिल रही थी कि कुछ मुनाफाखोर आम में केमिकल लोचा कर रहे थे। फिर क्या था, फूड डिपार्टमेंट की मदद से मंडी में छापेमारी हुई तो 9 सौ किलो जहरीले आम को जब्त कर लिया गया।

ये हाल तब है जब कैल्शिय़म कार्बाइड से फलों को पकाने पर बरसों से बैन लगा है। लेकिन आमों के कारोबार में जुटे सौदागरों को इससे क्या फर्क पड़ता है। किसी की जान जाए तो जाए, उन्हें तो बस अपनी जेबें भरने से मतलब है। इसीलिए हर साल कैल्शियम कार्बाइड से आम पकाए जाते हैं, बेखौफ होकर उन्हें बाजार में बेचा जाता है।

सूरत में तो साढ़े 900 किलो जहरीला आम आपके और हमारे घर में पहुंचने से रोक लिया गया, नहीं तो ये जहरीला आम मैंगो शेक या फिर आम पन्ना के जरिए आपके बच्चो और आपके शरीर में जा सकता था। इसलिए सावधान हो जाइए और बाजार में कने वाले हर आम डाल के पके नहीं हैं।