News

250 रुपए प्रति टन के हिसाब से RBI बेच रहा है 1000-500 के नोट

 

नई दिल्ली (4 दिसंबर): 500 और 1000 के नोटों पर पबंदी के बाद भारी तादद में नोट अचानक प्रचलन से बाहर हो गए। रद्दी पर चुके 500 और 1000 के पुराने नोटों को अब आरबीआई 250 रुपये प्रति टन के हिसाब से बेच रहा है। इन नोटों को केरल की एक कंपनी को बेचा जा रहा है। केरल स्थित कन्‍नूर जिले की छोटी सी जगह वालापट्टनम की वेस्‍टर्न इंडिया प्‍लाईवुड (WIP) नाम की कंपनी RBI से इन नोटों को खरीद रही है। करीब 71 साल पुरानी इस इस कंपनी को  RBI ने नोटों को अंजाम तक पहुंचाने का काम दिया है। कंपनी को इसके लिए बाकयदा टेस्‍ट से गुजरना पड़ा है। टेस्‍ट में पूरी तरह से पास होने के बाद ही सेंट्रल बैंक की ओर से यह टेंडर दिया गया है।

RBI से ये नोट खरीदकर WIP इनकी लुग्‍दी (pulp) बनाएगी। WIP मूल तौर पर प्‍लाईवुड और हार्ड वुड बनाती है। कंपनी इन नोटों से पहले लुग्‍दी तैयार करेगी, और बाद में उससे हार्डवुड बनाया जाएगा। WIP को RBI की केरल शाखा की ओर से इन नोटों को रीसाइकिल करने का काम दिया गया है।

WIP के MD पीके मयान मोहम्‍मद के मुताबिक इन नोटों को कंपनी की फैक्‍ट्री तक बेहद सीक्रेट तरीके से लाया जा रहा है। हालांकि उन्होंने नोटों की डिलेवरी की पुरी जानकारी नहीं मुहैया कराई है। मोहम्‍मद की कंपनी मूल तौर पर स्‍पोर्ट्स गुड्स बनाने का काम करती है।1945 में बनी इस कंपनी में करीब 1200 वर्कर काम करते हैं। हार्ड बोर्ड और प्री फिनिश्‍ड बोर्ड बनाने के मामले में आईएसओ 9002 सर्टिफिकेट पाने वाली यह पहली कंपनी है।

मोहम्‍मद ने बताया कि कंपनी को अब तक करीब 60 से 70 टन पुराने 1000 और 500 रुपए के नोट मिल चुके हैं। कंपनी इसके लिए आरबीआई को 250 रुपए प्रतिटन पे करती है। कंपनी एक से दो ट्रक पुराने नोट हर सप्‍ताह ले रही है। एक ट्रक में करीब 18 टन नोट आते हैं।मुहम्‍मद ने बताया कि उनकी कंपनी थर्मो मेकैनिकल पुल्पिंग के जरिए लुग्‍दी बनाती है। इसमें से 7 फीसदी नोट ही लुग्‍दी के काम में आता है, बाकी लकड़ी के जुकड़ों में तब्‍दील हो जाता है।

सॉलिड करंसी नोटों को कई प्रॉसेस के बाद ईंधन और हार्डबोर्ड के तौर पर तब्‍दी किया जाता है। हालांकि WIP इन नोटों से हार्डबोर्ड ह बनाती है। मोहम्‍मद ने बताया कि बैंकों नोटों को लुग्‍दी के तौर पर तब्‍दील करने के बाद इनसे हार्डबोर्ड बनाया जाता है। नोटों से लुग्‍दी बनाने के बाद इसे वेट मैन पर बिछा दिया जाता है। वेट मैन पर यह सूखने के बाद हाई बोर्ड के तौर प तब्‍दील हो जाता है। 


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top