बेंगलुरु में RBI का अफसर अरेस्ट

नई दिल्ली(13 दिसंबर): नोटबंदी के बाद ब्लैकमनी को लेकर देशभर में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) और सीबीआई के छापे और धरपकड़ जारी है। इन एजेंसियों को पिछले 24 घंटे में तीन बड़ी कामयाबी मिलीं।

- सीबीआई ने मंगलवार को आरबीआई के एक सीनियर अफसर को अवैध रूप से नोट एक्सचेंज के आरोप में अरेस्ट किया। उधर, एक दूसरे मामले में सीबीआई ने हवाला कारोबारी केसी वीरेंद्र को अरेस्ट किया।

- वहीं, नोट एक्सचेंज के आरोप में चार बैंक अफसरों के खिलाफ केस दर्ज किया गया। सोमवार देर रात एक अलग कार्रवाई में ईडी ने 93 लाख रुपए के नए नोट जब्त किए। इस मामले में 7 लोगों को अरेस्ट किया गया। ईडी के अफसरों ने कस्टमर बनकर इन्हें पकड़ा।

- सीबीआई ने मंगलवार को बेंगलुरु में आरबीआई के एक सीनियर अफसर को ब्लैकमनी को व्हाइट करने के आरोप में अरेस्ट किया।

- आरबीआई की तरफ से इसकी पुष्टि नहीं की गई है।

- सीबीआई ऑफिशियल ने न्यूज एजेंसी को बताया कि हवाला कारोबारी और जेडीएस लीडर केसी वीरेंद्र को हुबली में 10 दिसंबर को हिरासत में लिया गया था। मंगलवार को इसे कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने इसे 6 दिन की सीबीआई कस्टडी में भेज दिया है।

- बता दें कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 11 दिसंबर को वीरेंद्र के चित्रदुर्ग और हुबली के ठिकानों पर छापे डाले थे। इसके चित्रदुर्ग के पास चल्लाकेरे वाले घर से 5.7 करोड़ रुपए के 2000 के नए और 90 लाख के पुराने नोट जब्त किए गए। इसके अलावा 32 किलो की ज्वैलरी भी मिली। इस कारोबारी ने ये पैसा बाथरूम में बने सीक्रेट चैम्बर मेंं रखे थे।

- उधर, सीबीआई ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक के चार अफसरों के खिलाफ केस दर्ज किया है। इन पर पुराने नोटों को नये नोटों से बदलने का आरोप है।