आज से सेविंग अकाउंट्स से कैश निकालने की सभी सीमाएं समाप्त

नई दिल्ली ( 13 मार्च ): रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया ने जनता को होली के दिन बड़ा तोहफा दिया है। आरबीआई ने सोमवार (13 मार्च) से नोटबंदी के बाद तय की गई बचत खातों से नकदी निकासी की सीमाएं पूरी तरह से खत्म कर दी हैं। आप अब बचत खातों से जितना चाहें उतना पैसा निकाल सकते हैं। आरबीआई ने 8 फरवरी को ऐलान किया था कि बचत खाते से नकदी निकासी की सीमा को दो चरणों में हटा लिया जाएगा।

पहले चरण के तहत 20 फरवरी से बचत खातों से हर हफ्ते 24,000 रुपये की जगह 50,000 रुपये तक निकाले जाने की छूट दे गई थी। मौद्रिक नीति की समीक्षा की घोषणा के दौरान भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने इसकी जानकारी दी थी। नोटबंदी के बाद कैश निकासी की सभी तरह की सीमाएं होली के दिन से समाप्त हो गई हैं। नोटबंदी के करीब 4 महीनों बाद कैश निकासी से जुड़े सभी रोक पहले जैसे हो जाएंगे।

बता दें कि काला धन और फेक करेंसी पर हमला करते हुए पीएम मोदी ने 8 नवंबर 2016 को 500-1000 की पुरानी करंसी को अमान्य घोषित कर दिया था। रिजर्व बैंक ने नोटबंदी के बाद कई बार नियमों को बदलते हुए बैंक और एटीएमस से कैश निकासी पर शर्तें लगा दी थीं।