सावधान: 1 जनवरी से नहीं चलेंगे आपके ऐसे डेबिट और क्रेडिट कार्ड


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (25 नवंबर): अगर आप डेबिट और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। आरबीआई के दिशा-निर्देश के मुताबिक नए साल यानी 1 जनवरी 2019 से आपका डेबिट और क्रेडिट कार्ड काम करना बंद कर सकता है। हालांकि इसके लिए परेशान होने की ज्यादा जरूरत नहीं है, बल्कि समय रहते आपको अपना नया डेबिट-क्रेडिट कार्ड बनबाना होगा। दरअसल आरबीआई ने बैंकों को मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड को 31 दिसंबर, 2018 तक ईएमवी चीप कार्ड से बदलने का दिशा-निर्देश जारी किया है। बताया जा रहा है कि नया ईएमवी कार्ड पहले से अधिक सुरक्षित है और उससे फ्रॉड होने का खतरा बेहद कम है।


आपको बात दें कि आरबीआई ने 27 अगस्त, 2015 को एक दिशा-निर्देश जारी किया था और बैंकों को कार्ड बदलने की पूरी प्रक्रिया के लिए तीन साल से अधिक का वक्त दिया था। आरबीआई ने कहा था, 'एक सितंबर, 2015 से बैंक द्वारा जितने भी नए कार्ड (डेबिट और क्रेडिट, डमेस्टिक और इंटरनैशनल) जारी किए जाएंगे वे ईएमवी चिप और चिप आधारित कार्ड होंगे।' बैंक अपनी तरफ से उपयोगकर्ताओं को कार्ड को बदलवाने के लिए बार-बार मैसेज कर रहे हैं।


गौरतलब है कि चिप आधारित डेबिट और क्रेडिट कार्ड सुरक्षा के लिहाज से काफी बेहतर हैं। ईएमवी (यूरो पे, मास्टर कार्ड और वीजा) में एक छोटा सा माइक्रोचिप होता है, जो खरीदारों की जाली ट्रांजैक्शन से सुरक्षा करता है। कोई डेबिट या क्रेडिट कार्ड ईएमवी है या नहीं, इसका पता लगाना बेहद आसान है। ईएमवी कार्ड में ऊपर की तरफ अधिकतर बाईं ओर सुनहरे रंग का एक चिप लगा होता है। इस तरह का कार्ड डेटा का स्टोरेज कार्ड पर मौजूद मैग्नेटिक स्ट्राइप के बैंड पर सूक्ष्म आयरन आधारित मैग्नेटिक पार्टिकल्स के मैग्नेटिज्म को मोडिफाई करके कर सकता है। मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड को स्वाइप कार्ड या मैगस्ट्राइप भी कहा जाता है, क्योंकि इसका इस्तेमाल स्वाइप करके किया जाता है।