जडेजा के नाम दर्ज है वो रिकॉर्ड जो सचिन, गावस्कर भी नहीं कर पाए

नई दिल्ली(22 अप्रैल): टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर हाल ही में शादी के बंधन में बंधे है। मैदान में जहां जडेजा अपने खेल से खबरों में बने रहते हैं, वहीं उनकी शादी में गोलियां चली जिसके बाद वह भी सुर्खियों बन गई। लेकिन इन सबसे हट के जडेजा को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में जडेजा गेंद से कमाल करते हैं तो घरेलू क्रिकेट में वह अपने बल्ले का जौहर दिखाते हैं। 

इसी बल्लेबाजी के दम पर उनके नाम एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है जो कभी महान बल्लेबाज सुनिल गावस्कर और सचिन तेंदुलकर भी नहीं कर पाए। जडेजा प्रथम श्रेणी क्रिकेट के इतिहास में 3 तिहरे शतक लगाने वाले भारत के पहले और दुनिया के आठवें बल्लेबाज हैं। 

जडेजा ने सौराष्ट्र की ओर से खेलते हुए नवंबर, 2011 में पहला तिहरा शतक लगाया था। उन्होंने उड़ीसा (अब ओडिशा) के खिलाफ 375 गेंदों में 314 रन (29 चौके, 9 छक्के) की पारी खेली थी। इसके बाद अगले दो तिहरे शतक तो उन्होंने रणजी ट्रॉफी के एक ही सत्र (2012-13) में बना दिए थे। जडेजा ने दूसरा तिहरा शतक नवंबर, 2012 में गुजरात के खिलाफ बनाया था, जिसमें उन्होंने सूरत के मैदान पर 561 गेंदों में 303 रन (37 चौके, 4 छक्के) की नाबाद पारी खेली थी। तीसरा तिहरा शतक उन्होंने दिसंबर, 2012 में रेलवे के खिलाफ बनाया, जिसमें उन्होंने 331 रन (501 गेंद, 29 चौके और 7 छक्के) की पारी खेली थी।

वर्ल्ड लेवल पर ये बल्लेबाज भी हैं खास अब हम वर्ल्ड लेवल पर ऐसे बल्लेबाजों पर नजर डालते हैं, जिन्होंने अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में तीन या अधिक तिहरे शतक लगाए हैं। ये हैं सर डॉन ब्रैडमैन (6), बिल पॉन्सफोर्ड (4), वॉली हैमन्ड (4), डब्ल्यूजी ग्रेस (3), ग्रीम हिक (3), ब्रायन लारा (3) और माइक हसी (3)।

भारत के 4 बल्लेबाजों के नाम 2 तिहरे शतक

रवींद्र जडेजा के इस रिकॉर्ड से पहले भारत के 4 बल्लेबाजों ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में दो तिहरे शतक जमाए थे। ये भारतीय बल्लेबाज हैं- विजय हजारे, वीवीएस लक्ष्मण,  रमन लाम्बा और वसीम जाफर। वहीं इंटरनेशनल लेवल पर भारत की ओर से वीरेंद्र सहवाग (309 और 319) के नाम दो तिहरे शतक हैं। महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर के नाम फर्स्ट क्लास क्रिकेट में एक तिहरा शतक (340 रन) है, वहीं सचिन तेंदुलकर के नाम घरेलू क्रिकेट और इंटरनेशनल क्रिकेट दोनों में कोई भी तिहरा शतक नहीं है और उनका सर्वाधिक स्कोर 248 रन है।