कोच न चुने जाने के बाद गांगुली पर भड़के शास्त्री, बोले- पूछो उन्हें, मुझसे क्या दिक्कत है?

मुंबई (28 जून): टीम इंडिया के पूर्व डायरेक्टर रवि शास्त्री ने एक बार फिर गांगुली को आड़े हाथों लिया है। टीम इंडिया के हेड कोच न बनाए जाने से दुखी शास्त्री ने कहा कि सौरव गांगुली से पूछना चाहिए कि उन्हें मुझसे क्या दिक्कत है? हालांकि कोच न बनाए जाने पर उन्होंने अपने इंटरव्यू में कहा कि जब मुझे कोच नहीं बनाया गया तो उस वक्त मुझे काफी दुख हुआ था। लेकिन ये फैसला बोर्ड करता है। ये उसका अधिकार है कि वो किसे ये जिम्मेदारी देना चाहता है।

इंटरव्यू के दौरान जब उनसे कोच के चयन के समय गांगुली की मौजूदगी पर सवाल किया गया तो उनहोंने कहा कि हां, सौरव वहां नहीं थे। आपको ये सवाल मेरी जगह सौरव से पूछना चाहिए कि उन्हें मुझसे दिक्कत क्या है? शास्त्री ने कहा- मैं किसी सीईओ के जाॅब के लिए इंटरव्यू देने नहीं गया था। सचिन, लक्ष्मण और संजय जगदाले से काफी अच्छा डिस्कशन हुआ। फ्यूचर पर बात हुई। हम टेस्ट में नंबर वन इसलिए नहीं हैं क्योंकि छह महीने से हमने टेस्ट ही नहीं खेले हैं। अगर मुझे टीम इंडिया को गाइडेंस के लिए कहा जाएगा तो मैं उनकी मदद जरूर करूंगा।    कोच सिलेक्शन कमेटी में सचिन, वीवीएस लक्ष्मण, सौरव गांगुली और संजय जगदाले थे। इंटरव्यू के समय वीवीएस लक्ष्मण और संजय ताज बंगाल होटल में थे। सचिन स्काइप के जरिए लंदन से जुड़े। इंटरव्यू के दौरान गांगुली नदारद थे। गांगुली मीटिंग रूम से बाहर चले गए। उस वक्त फोन कॉल्स भी उन्होंने नहीं उठाए। इंटरव्यू के बाद शास्त्री ने कहा कि मेरा इंटरव्यू शाम को 5 से 6 बजे के बीच हुआ था। इंटरव्यू के दौरान सचिन, वीवीएस लक्ष्मण और संजय जगदाले थे। गांगुली नहीं थे।