चैंपियन्स ट्रॉफी के आयोजन की कोई जरूरत नहीं: रवि शास्त्री


नई दिल्ली(4 अप्रैल): पूर्व भारतीय आलराउंडर रवि शास्त्री को लगता है कि आईसीसी कई टूर्नामेंट आयोजित कर रही है और इसलिए चैंपियन्स ट्रॉफी के आयोजन की कोई जरूरत नहीं है जो एक जून से इंग्लैंड में शुरू होगी।


- शास्त्री ने कहा, ‘‘अगर मेरी मानो तो पांच साल बाद 50 आेवरों की बहुत कम क्रिकेट होगी। आईसीसी के कई टूर्नामेंट हैं। किस खेल में इतने अधिक विश्व चैंपियन हैं। ’’


- भारतीय टीम के पूर्व निदेशक का मानना है कि चैंपियन्स ट्रॉफी के अस्तित्व से हर चार साल में होने वाले आईसीसी विश्व कप का महत्व भी कम हो रहा है। शास्त्री ने यहां एक प्रचार कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘‘मैं सड़क पर किसी से भी मिलता हूं और मुझसे पूछा जाता है कि कितने विश्व कप हैं यार। विश्व चैंपियन है कौन। जो कि सच्चाई है। चैंपियन्स ट्राफी और विश्व कप दोनों का आयोजन किया जा रहा है। एेसे में आप विश्व कप का महत्व कम कर रहे हो। ’’


- उन्होंने कहा, ‘‘विश्व कप, टी20, टेस्ट क्रिकेट ठीक है। चैंपियन्स ट्राफी की क्या जरूरत है। आप क्या साबित करना चाहते हो। किसे पता है कि कौन जीता था। अगर आप मुझसे पिछले 10-12 विश्व कप के विजेताओं के बारे में पूछोगे मैं बताउंगा लेकिन अगर आप मुझसे चैंपियन्स ट्रॉफी के पिछले तीन विजेताओं के बारे में पूछोगे तो मैं नहीं जानता। पिछले : इंग्लैंड में 2013 में : के बारे में बता दूंगा कि क्योंकि वह भारत ने जीता था। ’’