आजाद और सोज के बयान पर बीजेपी का वार, कहा- जवाब दें सोनिया और राहुल गांधी

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 22 जून): जम्मू-कश्मीर में सेना की कार्रवाई और राज्य की आजादी पर कांग्रेस के दो वरिष्ठ नेताओं के बयान के बाद बवाल मच गया है। सत्तारूढ़ बीजेपी ने जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद के सैन्य ऑपरेशन में आतंकवादी से ज्यादा आम लोगों के ज्यादा मारे जाने के बयान की कड़ी निंदा की है। साथ ही कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आजाद के बयान को गैर जिम्मेदाराना, शर्मनाक और सेना का मनोबल तोड़ने वाला बताया। उन्होंने कहा कि पूर्व सीएम की इस टिप्पणी से सबसे ज्यादा खुश पाकिस्तान होगा।प्रसाद ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'आजाद की यह टिप्पणी दुर्भाग्यपूर्ण है। वह क्या कहना चाहते हैं? वह क्या संकेत दे रहे हैं? कांग्रेस पार्टी देश तोड़ने वालों के साथ खड़ा हो गई है। कांग्रेस का ऐसा नेता यह बयान दे रहा है जो जम्मू-कश्मीर की सीएम रह चुका है, जिसने कश्मीर में आतंकवाद के दंश को झेला है। बीजेपी नेता ने कहा, 'देश के लिए हम सभी जीते हैं, लेकिन देश के लिए सेना, केंद्रीय सुरक्षा बलों और पुलिस के जवान मारे जाते हैं।उन्होंने कहा कि आजाद के बयान का लश्कर-ए-तैयबा जैसे संगठन भी समर्थन कर रहे हैं। प्रसाद ने कहा कि लश्कर का प्रवक्ता अब्दुल्ला गजनवी ने बयान जारी कर कहा, 'हमारा विचार भी आजाद के विचार की तरह ही है।' उन्होंने कहा कि सेना चीफ बिपिन रावत और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के शहीद औरंगजेब के घर जाने को आजाद ड्रामा बताते हैं। इससे खराब बात और क्या हो सकती है।रविशंकर प्रसाद ने कहा, चूंकि आजाद यह बात बोल रह हैं तो मैं एक आंकड़ा देश के सामने रखना चाहता हूं। 2012 में कश्मीर में 72 आतंकवादी मारे गए. 2013 में 67 आतंकी मारे गए थे। जब 2014 में हम सत्ता में आए तो 110 आतंकवादी मारे गए. 2015 में 108, 2016 में 150,  2017 में 217 और मई 2018 तक 75 आतंकी मारे गए हैं।'