सावन स्पेशलः इस तीर्थ पर लगती है चमत्कारी बेलपत्रों की प्रदर्शनी

नई दिल्ली (2 अगस्त):  सावन में लाखों लोग झारखंड के देवघर जिले के बाबा बैद्यनाथधाम मंदिर पहुंचकर कामना लिंग पर जलाभिषेक करते हैं। 

- मान्यता है कि सावन में गंगाजल से बाबा का जलाभिषेक करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। गंगाजल के साथ बेलपत्र भी भगवान शिव को अतिप्रिय है।

- बेलपत्र के इसी महत्व के कारण बैद्यनाथधाम के पुरोहितों द्वारा दुर्लभ बेलपत्रों की प्रदर्शनी लगाई जाती है। 

- ये पुरोहित दूर-दराज के जंगलों से दुर्लभ प्रजाति के बेलपत्र चुन कर लाते हैं और मंदिर परिसर में दुर्लभ बेलपत्रों की अनोखी प्रदर्शनी लगाई जाती है।

- इस प्रदर्शनी को देखने के लिए हजारों श्रद्धालु इकठ्ठे रहते हैं

- पुरोहितों व बांग्ला पंचांग के मुताबिक, सावन संक्रांति के बाद प्रत्येक सोमवार को यहां बेलपत्र की प्रदर्शनी लगाई जाती है।

- बेलपत्र प्रदर्शनी में पुरोहित समाज के ही लोग हिस्सा लेते हैं, जिनमें जनरैल, बरनैल, बमबम बाबा, राजाराम समाज, शांति अखाड़ा सहित विभिन्न पुरोहित समाज के लोग शामिल होते हैं।