बंदूक की नोक पर मासूम के साथ रेप, पुलिस नहीं दर्ज कर रही FIR

rape

बरेली (9 फरवरी): यूपी के बरेली में एक मासूम से बंदूक की नोंक पर रेप हुई है। पीड़ित लड़की और उसकी मां आऱोपी को पकड़ने के लिए कई दिनों से थाने के चक्कर लगा रही है, लेकिन पुलिसवाले मामला दर्ज करने को राजी नहीं हो रहे। वो इस पूरे मामले को कुछ और ही बताने में लगे हैं।

कैमरे के सामने मासूम गला फाड़ फाड़ के बोल रही है कि उसके साथ किसी ने गलत किया है। बंदूक की नोंक पर उसके सात जबरदस्ती की गई है, लेकिन पुलिसवाले को शायद इन बातों पर यकीन नहीं तभी तो वे इस पूरे मामले को कुछ और बता रहे हैं।

मामला यूपी के बरेली का है। थाने में बैठी ये महिला अपनी मासूम की शिकायत को लेकर आई है लेकिन इसकी कोई सुनने वाला नहीं है। महिला के मुताबिक उसकी मासूम के साथ रेलवे कॉलनी में रहने वाले एक लड़के ने जबरदस्ती की है। ये तब हुआ जब ये 12 साल की मासूम अपने घर के नीचे गई थी, तभी वहां पहुंचे एक लड़के ने मासूम के साथ बंदूक की नोंक पर रेप किया और पूरे मामले को घरवालों को नहीं बताने की धमकी दी। हालांकि, घर आने के बाद इस मासूम ने पूरे मामले की जानकारी घरवालों को दी और तभी से ये महिला मासूम की शिकायत को लेकर थाने के चक्कर लगा रही है लेकिन इसकी कोई सुननेवाला नहीं।

रेप की वारदात के बाद ये महिला अपनी मासूम को लेकर थाने पहुंची तो इसका आरोप है कि पुलिसवालों ने पूरे मामले पर समझौता करने का दबाव बनाया। साथ ही पचास हजार रुपए लेकर मामले को रफा दफा करने की बात कही, लेकिन उन्होने इस समझौते से इनकार कर दिया।

वहीं पुलिस पीड़िता की एक बात भी नहीं सुन रही हैं, बल्कि इस पूरे मामले को पैसे के लेनदेन का विवाद बता रही है। लेकिन हैरत की बात ये है कि जिस मामले में खुद पीड़ित कैमरे के सामने बयान दे रही है। अपनी मां के साथ मामले की रिपोर्ट लिखाने के लिए थाने का चक्कर लगा रही है। उसके आरोपों पर पुलिस अधिकारी बिना मेडिकल चेक अप के ही पूरे मामले को पैसे की लेनेदेन बताकर पल्ला झाड़ रहे हैं। अब आलम ये है कि पुलिसिया रवैये से छात्रा का पूरा  परिवार परेशान है। और छात्रा ने शर्म के मारे स्कूल जाना भी बंद कर दिया है।