बेटी से रेप के आरोपी ने दी जान, सुसाइड नोट ने दिया झंकझोर

जौनपुर (28 अप्रैल): उत्तर प्रदेश के जौनपुर में एक बेटी ने पिता पर रेप का आरोप लगाया, जिसके बाद पिता ने मौत को गले लगा लिया। मरने से पहले इस पिता ने एक सुसाइड नोट लिखा, जिसमें उसने अपनी बेटी और उसके दोस्तों पर जायदाद हड़पने का आरोप लगाते हुए एक भावुक चिट्ठी लिखी है।

मृतक रामशंकर पाल ने मौत को गले लगाने से पहले 14 पन्नों का एक खत लिखा है जिसमें लिखा है कि उनकी बेटी और उसके दोस्तों ने मिलकर उसके खिलाफ साजिश रची। 25 अप्रैल को उसकी बेटी ने पुलिस में पिता के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज कराई थी। अपनी आखिरी चिट्ठी में रामशंकर ने लिखा है कि बेटी मैं कहता था ना कि तू धोखेबाज है। तू जो कहती है वो करती नहीं और जो करती है वो कहती नहीं। अब तो तुझे शांति मिल गई होगी। 2008 से मुझे मारने की कोशिश कर रही थी पर मैं बचता रहा। पर 2016 में तेरा ये सपना पूरा हो गया।

रामशंकर पाल ने लिखा कि एक साजिश के तहत तूने ये सब काम किया और सबको तबाह कर दिया। एक गिरगिट की तरह तुम रंग बदलती रही, तभी मैं जान गया था कि तुम कुछ बड़ा बम फोड़ने वाली हो। मैं जा रहा हूं पर ये एक बाप का श्राप है कि तुम कभी सुखी नहीं रहोगी। मुझे तो मेरी सजा मिल गई पर तुम्हें जो सजा मिलेगी उसका एहसास तुम्हें नहीं है। अब तक तुम धोखा दे रही थीं, सबको पर पहली बार मैं धोखा दे रहा हूं। पहली बार मैं तुमसे जीत गया हूं। पहले भी तुमसे पूछा था आज भी पूछता हूं कि तुम ऐसा क्यों करती हो।