रेप का वीडियो वायरल होने पर महिला ने की खुदकुशी

नई दिल्‍ली (14 जनवरी): मुज़फ्फरनगर में एक आशा कार्यकर्ता के साथ बलात्कार का एमएमएस बनाए जाने के बाद आत्महत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मामला दो समुदाय के बीच होने के चलते इलाके में तनाव है और भारी पुलिसबल तैनात किया गया है।

जानकारी के अनुसार, आशा कार्यकर्ता को प्रसव पीड़ा के बहाने घर बुलाकर पहले नशीला प्रदार्थ खिलाया गया और फिर बलात्कार कर आरोपी ने उसका एमएमएस बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया। पीड़ित आशा कार्यकर्ता ने शर्म और मानसिक आघात के चलते जहर देकर आत्महत्या कर ली।

पति के बीमार होने के कारण मृतक महिला आशा बहु का काम कर अपने तीन बच्चों का पालन पोषण कर रही थी। मामला मीडिया में आने के बाद पुलिस ने आनन-फानन में आरोपी युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं इस मामले पर राजनीति भी शुरू हो गई है। कांग्रेस नेता शोभा ओझा ने मुजफ्फरनगर की घटना पर हैरानी जताते हुए दोषियों को कड़ी सजा की मांग उठाई है।

इस मामले को लेकर बीएसपी ने एसपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि बीएसपी के सुधींद्र भदौरिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। अखिलेश और उनके पिता मुलायम को सैफई से फुर्सत नहीं है कभी महोत्सव और कभी जन्मदिन का समारोह। सामाजिक कार्यकर्ता रंजना कुमारी ने भी घटना की निंदा करते हुए कहा इस तरह की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं, जिसमें रेप करने का एमएमएस भी बनाते हैं। ये दिखाता है कि अपराधियों की हिम्मत कितनी बढ़ी हुई है।