जिस बैंक के निदेशक शाह, वहां नोटबंदी में जमा हुए सबसे ज्यादा नोट: कांग्रेस

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 22 जून): कश्मीर पर कांग्रेस नेताओं के बयान को लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला। साथ ही कांग्रेस देश तोड़ने वालों के साथ खड़ी है। बीजेपी की प्रेस काॅफ्रेंस के तुरंत बाद कांग्रेस ने भी प्रेस कांफ्रेंस की और कहा कि बीजेपी और उसके अध्यक्ष कल से घबराएं हुए हैं। कांग्रेस ने कहा कि पोल खुलने के डर से मीडिया पर दबाव डाल कर एजेंडा बदलने की कोशिश हो रही है।  कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह जिस सहकारी बैंक में निदेशक हैं, उसमें नोटबंदी के दौरान सबसे ज्यादा पुराने नोट जमा किए गए हैं। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने शुक्रवार को इस मामले में बीजेपी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह पर जम कर हमला बोला।रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि नोटबंदी इस देश का सबसे बड़ा घोटाला था, 19 महीने बाद काला धन सफेद करने के धंधे का पोल खुल हो चुका है। उन्होंने कहा कि गुजरात के 11 जिला सहकारी बैंकों में 3,118 करोड़ रुपये जमा कराए गए। सबके बीजेपी के बड़े नेताओं से कनेक्शन हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी शासित राज्यों में बीजेपी नेताओं द्वारा चलाए जा रहे 11 जिला सहकारी बैंकों में नोटबंदी के दौरान सिर्फ 5 दिनों में 14,300 करोड़ रुपये जमा किए गए हैं।'उन्होंने कहा कि अहमदाबाद जिला कोपरेटिव बैंक ने नोटबंदी को नोटबदली का धंधा बना दिया था। नोटबंदी इस देश का सबसे बड़ा घोटाला था। ये बात राहुल गांधी समेत सभी लोगों ने कही है। पहले साक्ष्य नहीं थे, लेकिन अब साक्ष्य आ गया है। इस पूरे मामले की जांच होनी चाहिए। सुरजेवाला ने कहा कि 370 कॉपरेटिव बैंकों में से एक बैंक ने सबसे ज्यादा 745 करोड़ रुपया जमा किए जिसके निदेशक बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह हैं।कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि 7 मई 2018 को आरटीआई के जवाब में यह बात सामने आई है। उन्होंने कहा कि दो निदेशक अमित शाह के सहयोगी हैं। यह किसका कालाधन है। इसका जवाब मोदी और अमित शाह को देना होगा।