मारा गया मथुरा कांड का मास्टरमाइंड रामवृक्ष यादव!

मथुरा (4 जून): मथुरा कांड के मास्टरमाइंड के मारे जाने की खबर है। खबरों के मुताबिक रामवृक्ष यादव मथुरा पुलिस के ऑपरेशन के दौरान ही मारा गया था। आज मथुरा पुलिस रामवृक्ष का मारे जाने का ऐलान कर सकती है। हालांकि खबर की पुष्टि न होने के कारण पुलिस ने गाजीपुर से गाजियाबाद तक और मऊ से मथुरा तक पुलिस ने पूरी तरह नाकेबंदी कर दी है। मथुराकांड में अब तक 320 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

भीड़ को पुलिस के खिलाफ भड़काने वाला रामवृक्ष यादव मथुराकांड का मास्टर माइंड, जहर उगलने वाली जबान रखता था। अपनी खौफ से लोगों की खाहिशों पर कब्जा जमा रखा था। लालच  की बुनियाद पर गरीबों को बरगलाने वाला ये सनकी था। व्यवस्था को आंख दिखाने वाले इस खूंखार की पुलिस को तलाश है। चप्पे चप्पे पर पुलिस की निगाहें रामवृक्ष को ढूंढ रही है।

हिंसा के बाद अचानक गायब हो गया है रामवृक्ष, जिंदा है या मुर्दा किसी को पता नहीं, लेकिन अगर जिंदा है तो रामवृक्ष का ज्यादा दिनों तक छिपे रहना अब नामुमकिन है। क्योंकि पुलिस सनकी के हर ठिकाने पर पहरा बिठा चुकी है। लेकिन सवाल अहम है, जो सनकी जवाहरबाग की हिंसा का नेतृत्व कर रहा था अचानक कहां गायब हो गया, जो उपद्रवी 24 लोगों की मौत का जिम्मेदार है कैसे भाग गया।

बताया जा रहा है कि जब जवाहर बाग में हिंसा के दौरान पुलिस भारी पड़ने लगी तो कथित सत्याग्रही का मुखिया रामवृक्ष ने अपने कार्यलाय में आग लगा दी। फिर एक एक कर तंबुओँ को आग के हवाले कर दिया और पुलिस ऑपरेशन शुरू होने के बाद अचानक गायब हो गया।