गुरमीत राम रहीम के बाद आज संत रामपाल के खिलाफ आएगा फैसला

नई दिल्ली (29 अगस्त): कबीर पंथी संत रामपाल दास देशद्रोह के मामले में हिसार जेल में बंद है। दो केसों में इन पर आज कोर्ट का फैसला आने वाला है। हिसार के बरवाला में तीन साल पहले हुए विवाद के बाद इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। उस वक्त आश्रम से प्रेग्नेंसी टेस्ट किट सहित भारी मात्रा में हथियार मिले थे। 2006 में भी उस पर हत्या का केस भी दर्ज हुआ था।

बीते बुधवार को संत रामपाल के खिलाफ दर्ज एफआईआर नंबर 201, 426, 427 और 443 के तहत पेशी हुई थी। कोर्ट ने एफआईआर नंबर 426 और 427 का फैसला सुरक्षित रख लिया था। संत रामपाल पर एफआईआर नंबर 426 में सरकारी कार्य में बाधा डालने और 427 में आश्रम में जबरन लोगों को बंधक बनाने का केस दर्ज है। इन दोनों केसों में संत रामपाल के अलावा प्रीतम सिंह, राजेंद्र, रामफल, विरेंद्र, पुरुषोत्तम, बलजीत, राजकपूर ढाका, राजकपूर और राजेंद्र को आरोपी बनाया गया है।

गौरतलब है कि बरवाला में हिसार-चंडीगढ़ रोड स्थित सतलोक आश्रम में नवंबर 2014 में सरकार के आदेश के बाद पुलिस ने आश्रम संचालक रामपाल के खिलाफ कार्रवाई की थी। पुलिस ने रामपाल को 20 नवंबर 2014 को गिरफ्तार किया था।