सपा में सुलह की कोशिश नाकाम, डेढ़ लाख पन्नों के साथ ईसी पहुंचे रामगोपाल

नई दिल्ली (7 जनवरी): समाजवादी पार्टी में अखिलेश खेमे और मुलायम खेमे के बीच सुलह की कोशिशें नाकाम होती नजर आ रही हैं। सूत्र बता रहे हैं कि पार्टी में टूट अब तय है और रविवार को इसका ऐलान भी कर दिया जाएगा। माना जा रहा है कि मुलायम खेमा और अखिलेश खेमा अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे और ऐसे में अब सारी लड़ाई एक बार फिर साइकल चुनाव चिह्न पर आकर टिक गई है। शायद यही वजह है कि अखिलेश खेमे से रामगोपाल यादव शनिवार शाम चुनाव आयोग पहुंचे और आयोग को 1.5 लाख से ज्यादा पन्नों के रूप में अखिलेश के समर्थन में दस्तावेज सौंपे। रामगोपाल ने चुनाव आयोग को जो दस्तावेज सौंपे हैं, उनमें 205 विधायकों के हलफनामे शामिल हैं। रामगोपाल का दावा है कि 90 प्रतिशत विधायक और एमएलसी अखिलेश के साथ हैं। रामगोपाल ने कहा, 'प्रथम दृष्टया असली समाजवादी पार्टी अखिलेश की है और साइकल चुनाव चिह्न पर हमारा अधिकार है।'