केजरीवाल ने घोटाले के आरोपी अधिकारी को बनाया चीफ सेक्रेटरी

नई दिल्ली (10 जून): कभी भ्रष्‍टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद करके राजधानी दिल्ली की गद्दी पर बैठने वाले सीएम अरविंद केजरीवाल की सरकार ने एक ऐसा फैसला किया है, जिससे आने वाले वक्त में विवाद खड़ा हो सकता है। दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने रमेश नेगी को कार्यवाहक मुख्य सचिव बनाया है।

रमेश नेगी वही आईएस अधिकारी हैं जिनपर दिल्ली के वाटर मीटर घोटाले के आरोप लगे हैं। रमेश नेगी को पहले ही पूछताछ के लिए एसीबी ने नोटिस भेजा है। दिल्ली एसीबी ने 28 जुलाई को वाटर मीटर घोटाले में रमेश नेगी को पूछताछ के लिए बुलाया है।

बता दें कि जिस वक्त ये घोटाला हुआ था रमेश नेगी जल बोर्ड में सीईओ थे। वाटर मीटर घोटाले मामले में पहले ही शीला दीक्षित को भी नोटिस भेजा जा चुका है। ये मामला 2014 में एसीबी के पास आया था तब इस घोटाले में मामला दर्ज किया गया था। आरोप है कि उस वक्त गलत तरीके से ढाई लाख वाटर मीटर खरीदे गए थे।