बाबा रामदेव की पतंजलि को हाईकोर्ट से राहत, लोगो बैन करने की अर्जी खारिज

नई दिल्ली (5 मई): योगगुरु बाबा रामदेव की पतंजलि को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। हाईकोर्ट ने पतंजलि के उत्पादों पर अंकित ॐ के लोगों पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने लोगो पर रोक लगाने की मांग को लेकर दाखिल याचिका को खारिज कर दिया। कोर्ट ने कहा है कि याचिका कर्ता ये साबित करने में नाकाम रहे लोगो में ॐ लगाने से किस कानून का उल्लंघन हुआ है।


आपाको बता दें कि सामाजिक कार्यकर्ता रवींद्र सिंह कुशवाहा की जनहित याचिका दायर कर कहा था कि पतंजलि आयुर्वेद कम्पनी के लोगो में ॐ के बीच बाबा रामदेव की फोटो लगी हुई है। ॐ हिंदूधर्म का मंत्र है। इसके साथ ही जैन, सिख और बौद्ध धर्म में भी इसकी मान्यता है। लिहाजा टॉयलेट उत्पादों में इसके प्रयोग से हिन्दुओं की धार्मिक भावना को ठेस पहुंच रही है। याचिका में यह भी कहा गया कि ट्रेडमार्क एक्ट की धारा 9 के तहत धार्मिक भावना को आहत करने वाले चिन्हों का पंजीकरण नहीं हो सकता है। इसके साथ ही भारतीय दंड संहिता की धारा 295 ए के तहत भी ऐसा करना अपराध की श्रेणी में आता है।