चीन में मुसलमान परेशान, नहीं रखने दे रहा रोजा

बीजिंग (1 जून): पाकिस्तान भले ही इस समय चीन को अपना सबसे भरोसेमंद दोस्त मानता हो, लेकिन वहां पर मुस्लिमों की स्थिति जानवरों से भी बदतर है। यहां के शिनजियांग प्रांत के मुस्लिम बहुल इलाकों में लोगों को रोजा रखने से रोका जा रहा है।

वर्ल्ड उइगर कांग्रेस (WUC) के मुताबिक अधिकारियों ने इलाके में सारे रेस्तरां खुले रखने के आदेश दिए हैं। छात्रों को सामूहिक पढ़ाई और कम्युनिस्ट फिल्में देखने के लिए बुलाया जा रहा है। इसके अलावा तमाम ऐसी कोशिशें की जा रही हैं जिनसे मुस्लिमों को उनका यह धार्मिक महीना मनाने से रोका जाए।

यहां उइगर समुदाय के लोगों की जनसंख्या ज्यादा है जो वर्षों से चीनी उत्पीड़न से प्रभावित है। पड़ोसी होतान काउंटी में स्टूडेंट्स को शुक्रवार को खास 'सामूहिक पढ़ाई' के लिए अनिवार्य रूप से उपस्थित होने को कह दिया गया है। इसमें स्टूडेंट्स से कहा गया है सामूहिक पढ़ाई के अलावा, कम्युनिस्ट फिल्में देखी जाएंगी और खेल गतिविधियों में हिस्सा लिया जाएगा।

जाहिर है कि मुस्लिमों को धार्मिक कार्यक्रम से अलग रखने के लिए इस तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। रेडियो फ्री एशिया ने जब इस सवाल के संबंध में होतान प्रॉविन्स के अधिकारियों से बात की तो उन्होंने जवाब देने से इनकार कर दिया।