राम रहीम को आज सुनाई जाएगी सजा, पंजाब-हरियाणा में कड़ी सुरक्षा

नई दिल्ली ( 28 अगस्त ): डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सोमवार 28 अगस्त, 2017 को रोहतक जेल में ही वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए सजा सुनाई जाएगी। ऐसे में डेरा समर्थक फिर से हिंसा पर उतारू हो सकते हैं, किसी भी तरह के हालात से निपटने के लिए हरियाणा और पंजाब सरकार सतर्क है। खबरों के मुताबिक किसी भी अप्रिय घटना घटित होने से रोकने के लिए हरियाणा और पंजाब में सेना की 28 टुकड़ियां तैनात की गई हैं। सेना के इन टुकड़ियों को पंजाब के मुक्तसर, मन्सा जिलों और हरियाणा के सिरसा और पंचकूला में तैनात किया गया है।

आर्मी के एक टुकड़ी में करीब 100 से 120 जवान होते हैं। इसके साथ-साथ किसी भी हालात से निपटने के लिए अर्धसैनिक बलों की 23 कंपनियां तैनात की गई हैं। वहीं पंचकूला, रोहतक, कैथल, अंबाला में सभी स्कूल और कॉलेज कल बंद रहेंगे। 

26 अगस्त को फैसले के दिन पंचकूला में डेरा समर्थकों के उत्पात के मद्देनजर इस बार प्रशासन काफी सख्त कदम उठाने का दावा कर रहा है। रोहतक के डीसी ने कहा है, 'अगर समाजविरोधी तत्वों ने खुद को या दूसरों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की तो देखते ही गोली मारने का आदेश दिया जाएगा। हालात के हिसाब से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।'

हरियाणा में आज सभी सरकारी दफ्तर बंद रहेंगे। रोहतक, पंचकूला और कैथल में आज सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। गड़बड़ी पैदा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को रेप केस में राम रहीम के दोषी साबित होने के बाद पंचकूला और सिरसा में उनके समर्थक हिंसा पर उतारू हो गए थे, जिसमें 38 लोगों की मौत हो गई थी और 250 से अधिक लोग घायल हो गए थे। 

हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने कहा, 'रोहतक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हैं। अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है, जबकि सेना को स्टैंडबाय पर रखा गया है। किसी भी तरह की स्थिति पैदा होने पर उनका इस्तेमाल किया जाएगा। रोहतक में सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेने के लिए एडीजी (लॉ ऐंड ऑर्डर) मोहम्मद अकील को भेजा गया था।' 

एडीजी (लॉ ऐंड ऑर्डर) मोहम्मद अकील ने बताया, 'मैंने रोहतक का दौरा किया। सुरक्षा इंतजामों को लेकर कुछ सुधार की जरूरत थी, जिसपर मैंने जरूरी सुझाव दिए।' उन्होंने आगे बताया, 'सोमवार दोपहर 2.30 बजे कोर्ट की कार्यवाही शुरू होगी। इसको लेकर जेल के अंदर और बाहर सुरक्षा के पूरे इंतजाम हैं। मुझे विश्वास है कि किसी भी तरह का उपद्रव नहीं हो पाएगा। हालांकि, परिस्थिति के अनुरूप कार्रवाई की जाएगी।'