राज्यसभा में आज भी अटका तीन तलाक बिल, कांग्रेस अपनी मांग पर अड़ी

नई दिल्ली (4 जनवरी): लोकसभा में पास होने के बाद तीन तलाक बिल राज्यसभा में अटकता दिख रहा है। कांग्रेस सहित विपक्षी पार्टियां इसे सिलेक्ट कमेटी को भेजने पर अड़ी हुई है, जबकि मोदी सरकार इसे शीतकालीन सत्र में ही पारित कराना चाहती है।

कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने राज्यसभा में कहा कि हम बिल के हक में हैं लेकिन इसमें महिला विरोधी प्रावधान हैं, जिसका हम विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सवाल इस बात का है कि आरोपी पति अगर जेल में रहेगा तो उसकी पत्नी को खाना कौन खिलाएगा?

वहीं इस मामले में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि कांग्रेस सुधार के बहाने तीन तलाक बिल को लटकाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की तरफ से इसे सिलेक्ट कमिटी में भेजने का प्रस्ताव देर से आया। यह प्रस्ताव 24 घंटे पहले दिया जाना चाहिए था।