राष्ट्रपति उम्मीदवारी पर सियासी कसरत तेज, कल सोनिया से मिलेंगे BJP नेता

नई दिल्ली (15 जून): सर्वसम्मति से राष्ट्रपति चुनाव को संपन्न कराने के लिए कवायद तेज हो गई है। इसी कड़ी में कल कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से बीजेपी की ओर से राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडू ने मुलाकात करेंगे। सरकार की ओर से गठित मंत्रियों की समिति के तीसरे सदस्य वित्त मंत्री अरुण जेतली विदेश दौरे पर हैं और शुक्रवार तक उनके लौटने की गुंजाइश कम है। संभावना जताई जा रही है कि इन दोनों दिग्गजों से BJP द्वारा बनाई गई कमेटी के सदस्य शुक्रवार को मुलाकात करेंगे। इस दौरान सत्ताधारी दल की ओर से नामित राष्ट्रपति प्रत्याशी का नाम भी रखा जाएगा।


इससे पहले BJP की कोरगु्रप की बैठक भी हुई है, जिसमें मुलाकातों के दौर की पूरी रणननीतिक खाका खींचा गया है। बैठक के बाद वेंकैया ने बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्र को भी मायावती से चर्चा का समय तय करने के लिए फोन किया। सूत्रों की मानें तो इस कमेटी ने बहुजन समाज पार्टी के नेता सतीश चंद्र मिश्र, समाजवादी पार्टी के प्रो. रामगोपाल यादव और एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल से भी बात करने के लिए संपर्क साधा है। इसके अलावा सपा प्रमुख अखिलेश यादव से भी सरकार की समिति संवाद करेगी। वैंकेया जहां पीएमके और टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू समेत दक्षिण की पार्टियों के नेताओं से चर्चा करेंगे। वहीं जेटली संभवत: समाजवादी विचारधारा वाले दलों से वार्ता करेंगे। BJP सूत्रों के मुताबिक एनडीए उम्मीदवार 23 जून तक नामांकन भर सकता है, क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 को विदेश यात्रा पर जा रहे हैं।


जबकि, अरुण जेटली 17 जून को विदेश यात्रा से वापस आएंगे। तीनों मंत्री अलग-अलग दलों से बात करेंगे। BJP को भरोसा है कि एआईएडीएमके के दोनों धड़े समर्थन देंगे, क्योंकि डीएमके कांग्रेस के साथ है। कुछ विपक्षी दलों को समर्थन मिलने की भी बीजेपी को उम्मीद है। इसके अलावा राष्ट्रपति चुनाव में मतदाता की हैसियत से भाजपा-कांग्रेस के बाद तीसरी बड़ी पार्टी तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी से भी बातचीत करने की सरकार ने पहल की है।  सूत्रों की माने तो राजनाथ तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी से बात कर सकते हैं।  


आपको बता दें कि  चुनाव आयोग ने 7 जून को राष्ट्रपति पद के चुनाव का कार्यक्रम घोषित किया था। अधिसूचना जारी किए जाने के बाद 14 जून से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई और चुनाव 17 जुलाई को होगा। मतगणना 20 जुलाई को होगी। मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है।