राजनाथ ने पाकिस्तान में ही पाक को किया बेनकाब...

नई दिल्ली (4 अगस्त): भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह के सार्क सम्मेलन में बोलने से पाकिस्तान इतना ज्यादा डर गया कि उसने अपने देश की मीडिया को उनके भाषण की करवेज नहीं करने की। हालांकि भारतीय विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि मीडिया में गृहमंत्री के ब्लैकआउट की खबर गलत हैं।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि सार्क में एक प्रकिया के तहत हर देश के प्रतिनिधि की बातों को कैमरे में रिकॉर्ड किया जाता है। किसी भी व्यक्त‍ि और मीडिया कवरेज पर कोई रोक नहीं लगाई जा सकती।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान ने सिर्फ पीटीवी को ही राजनाथ सिंह के भाषण के दौरान मौजूद रहने की अनुमति दी। जबकि देश की दूसरी मीडिया को अंदर आने से रोक दिया गया। इसके पीछे की वजह बताई जा रही है कि भारतीय गृह मंत्री ने जिस तरह से पाक में रहते हुए, वहां के पीएम नवाज शरीफ और आतंकियों पर जमकर निशाना साधा।

भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में जारी तनाव सार्क के गृह मंत्रियों के सम्मेलन में उस समय साफ तौर पर देखने को मिला जब गृह मंत्री राजनाथ सिंह का अपने पाकिस्तानी समकक्ष चौधरी निसार अली खान से आमना-सामना हुआ। दोनों नेताओं ने बमुश्किल ही एक-दूसरे से हाथ मिलाए। इसके बाद सिंह सम्मेलन वाले हॉल की ओर बढ़ गए।

इस सम्मेलन की कवरेज के लिए भारतीय मीडिया के सदस्यों को इस क्षण की तस्वीरें लेने का मौका नहीं दिया गया। भारतीय मीडिया को पाकिस्तानी अधिकारियों से दूर ही रखा गया। इसके कारण भारत के एक वरिष्ठ अधिकारी और एक पाकिस्तानी अधिकारी के बीच कहासुनी भी हो गई।

गृहमंत्री ने अपने भाषण में कहा...

- गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- "केवल आतंकवाद और आतंकियों की बुराई ही काफी नहीं है।" - जो भी आतंकवाद की मदद और प्रोत्साहन करते हैं। उन्हें शरण और संरक्षा देते हैं, उन्हें बिल्कुल अकेला कर देना चाहिए। - सिर्फ आतंकियों के खिलाफ ही नहीं बल्कि उनका समर्थन करने वाले संगठनों, लोगों और देशों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। - आतंकवाद अच्छा या बुरा नहीं होता, आतंकवाद सिर्फ आतंकवाद होता है। - पाकिस्तान पीएम नवाज शरीफ पर निशाना साधते हुए राजनाथ सिंह ने कहा-  किसी भी आतंकवादी का शहीदों की तरह गुणगान और महिमामंडन नहीं होना चाहिए। - भारतीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह पाकिस्तान को आइना दिखाते हुए अपने भाषण को खत्म करने के बाद तुरंत भारत के लिए रवाना हुए। - राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान सरकार की तरफ से दिए गए लंच का बहिष्‍कार किया।