भारत में सभी धर्म बराबर, समान अधिकार बने रहेंगे: राजनाथ सिंह

नई दिल्ली(14 अक्टूबर): गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारत में सभी धर्म बराबर हैं और समान अधिकार बने रहेंगे। नेशनल क्रिश्चन लीडर्स कॉन्फ्रेंस में लोगों को सबोंधित करते हुए राजनाथ ने ये बातें कही। 

राजनाथ ने और क्या कहा...

-भारत में ईसाई धर्म 200 साल पहले आया था।

- सेंट थॉमस से लेकर मदर टेरेसा तक का इतिहास रहा है।

- भारत में सभी धर्म हैं, इस्लाम के सभी फिक्रे भारत में पाए जाते हैं।

- भारत में सभी को अपने-अपने धर्म के प्रेक्टिस करने का अधिकार है। 

-शांतिपूर्ण समाज के लिए सहिष्णुता होनी चाहिए।

- मैं भरोसा दिलाना चाहता हूं धार्मिक अत्याचार की इजाजत भारत में किसी को नहीं है।

- भारत सहिष्णुता की यूनिवर्सिटी है।

- ईसाई समाज को डरने की जरुरत नहीं है, धर्म के नाम पर भेदभाव नहीं होने देंगे।

- आतंकवाद पर उन्होंने कहा कि कुछ देश आतंकवाद को लेकर स्टेट पॉलिसी बनाते हैं ये दुर्भाग्य की बात है।

- क्या विवादों का समाधान बंदूक से निकलेगा, विवादों का समाधान मिल बैठकर निकल सकता है।

-  आतंकवाद धर्म नहीं है, पर कुछ लोग उसको धर्म से जोड़ते हैं, और इससे मिलकर लड़ना है।