घाटी में अलगाववादियों और आतंकियों को पाकिस्तान से हो रही फंडिंग: राजनाथ

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 दिसंबर): गुरुवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान और उसके अवैध कब्जे वाले कश्मीर में आतंकी ढांचाअभी भी मौजूद है। उन्होंने कश्मीर में आतंकवादियों और अलगाववादियों को सीमापार से हो रही फंडिंग को भी चिंताजनक बताया। उन्होंने अलगाववादियों पर कश्मीरी लोगों को हिंसा के लिए भड़काने का भी आरोप लगाया।

गृह मंत्री ने कई ट्वीट के जरिए आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान की आलोचना की। उन्होंने ट्वीट किया, 'पाकिस्तान और PoK में ट्रेनिंग कैंपों, लॉन्चिंग पैडों और कम्युनिकेशन कंट्रोल स्टेशनों के रूप में आतंकी ढांचा अभी भी मौजूद है। कश्मीर में आतंकियों और अलगाववादियों को सीमापार से हो रही फंडिंग भी चिंता का विषय है।' 

राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर में तनाव के लिए अलगाववादियों को जिम्मेदार ठहराते हुए लिखा, 'अलगाववादी कश्मीर में लोगों के बीच भारत-विरोधी भावनाएं भड़काने का कोई भी मौका नहीं चूकते, इससे कभी-कभी कानून और व्यवस्था की समस्या भी पैदा हो जाती है। हालांकि, पत्थरबाजी की घटनाओं में कमी आई है।' 

गृहमंत्री ने कहा कि भारत के प्रयासों के बदौलत ही वैश्विक अंतर-सरकारी निकाय 'फाइनैंशनल ऐक्शन टास्क फोर्स' (FATF) ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में रखा है। बता दें कि एफएटीएफ की अंतरराष्ट्रीय सहयोग समीक्षा समूह की एक टीम का जनवरी के पहले हफ्ते में पाकिस्तान का दौरा करने का कार्यक्रम है। पाकिस्तान FATF की काली सूची से बचने की कोशिश में है।